Kundli Tv- नाग पंचमी: कितना सुरक्षित हैं आपका घर और बच्चे

ये नहीं देखा तो क्या देखा (देखें VIDEO)
PunjabKesari

आज बुधवार दिनांक 15.08.18 श्रावण शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि के उपलक्ष्य में नाग पंचमी का पर्व मनाया जाएगा। शास्त्रों के अनुसार पंचमी तिथि के स्वामी नाग देवता हैं। श्रावण मास में नाग पंचमी होने के कारण इस मास में धरती खोदने का कार्य नहीं किया जाता। अतः इस दिन भूमि में हल चलाना, नींव खोदना आदि काम अशुभ माने जाते हैं। भूमि नागों का घर माना जाता है। यह दिन मूलतः नाग अर्थात सर्प देव को समर्पित है। इस दिन विवाहित स्त्रियां अपनी संतान, घर-परिवार व अपने जमा किए गए धन की रक्षा के लिए नागदेव के निमित्त व्रत व पूजन करती हैं। यह पूजन मूलतः भगवान शंकर के नीलकंठ स्वरूप से जुड़ा है। 
PunjabKesari
सनातन संस्कृति में नागों से जुड़ी किंवदंती के अनुसार भगवान शिव शंकर ने समुद्र मंथन के दौरान सृष्टि को बचाने के लिए जहर यानि हलाहल विष का पान किया था। शास्त्रों में नौ नागों के नाम अनंत, वासुकी, शेष, पद्मनाभ, कंबला, शंखपाल, धृतराष्ट्र, तक्षक व कालिया बताए गए हैं। इस दिन उपवास रखकर सूर्यास्त के बाद नाग पूजन के लिए खीर बनाकर सबसे पहले नाग देवता की मूर्ति अथवा शिव मंदिर में जाकर भोग लगाया जाता है। उसके बाद इस खीर को प्रसाद के रुप में स्वयं ग्रहण किया जाता है। इस दिन नमक व तले हुए भोजन का प्रयोग वर्जित होता है। नाग पंचमी के विशेष पूजन से स्वयं महादेव भक्त की सभी बुराइयों से रक्षा कर जीवन में विजयी बनाते हैं। घर-परिवार की सुरक्षा होती है तथा संचित धन की रक्षा होती है और संतान को लंबी उम्र मिलती है। निसंतान दंपति को संतान प्राप्त होती है।
PunjabKesari
स्पेशल पूजन विधि:शिवालय में जाकर शिव परिवार संग नागदेव का विधिवत पंचोपचार पूजन करें। तिल के तेल का दीपक करें, सुगंधित धूप करें, सफ़ेद फूल चढ़ाएं, चंदन से तिलक करें, दूध से अभिषेक करें, मावे के मिष्ठन का भोग लगाएं तथा 1 माला इस विशिष्ट मंत्र की जपें। पूजन के बाद भोग को पीपल के नीचे रख दें।  

स्पेशल नाग मंत्र: ॐ भुजंगेशाय विद्महे, सर्पराजाय धीमहि, तन्नो नाग: प्रचोदयात्॥
स्पेशल शिव मंत्र:ॐ नागेश्वराय नमः॥

सुबह का स्पेशल मुहूर्त: सुबह 09:30 से सुबह 10:30 तक।
शाम का स्पेशल मुहूर्त:शाम 16:15 से शाम 17:15 तक।

गुड हेल्थ के लिए: कांसे के लोटे से शिवलिंग का जलाभिषेक करें। 
PunjabKesari
गुडलक के लिए: शिवालय में नाग देवता पर चढ़ी इलायची जेब में रखें। 

विवाद टालने के लिए: शिवालय में नाग देवता पर कुशा चढ़ाएं।  

नुकसान से बचने के लिए: शिवलिंग पर हरे पत्तों की माला चढ़ाएं। 

प्रॉफेश्नल सक्सेस के लिए:शिवालय में नाग देवता पर सूखा धनिया चढ़ाएं। 

एजुकेशन में सक्सेस के लिए: शिवालय में नाग देवता पर मंजिरी चढ़ाकर टेक्स्टबुक के बीच में रखें।  
PunjabKesari
बिज़नेस में सफलता के लिए:शिवलिंग पर चढ़ी साबुत सुपारी गल्ले में रखें। 

पारिवारिक खुशहाली के लिए: "ॐ नगेंद्रहाराय नमः" मंत्र का जाप करें।

लव लाइफ में सक्सेस के लिए: शिवालय में नाग देवता पर धनिए की पंजीरी चढ़ाएं।

मैरिड लाइफ में सक्सेस के लिए: शिवालय में नाग देवता पर मीठा पान चढ़ाएं।

आचार्य कमल नंदलाल
ईमेल: kamal.nandlal@gmail.com

आपकी मौत का समय बताती है ये घड़ी (देखें VIDEO)

 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!