होलिका दहन: ये उपाय सुधारेंगे आपके बिगड़े रिश्ते

ये नहीं देखा तो क्या देखा (Video)


समय के साथ जब हम आगे बढ़ने लगते हैं तो जाने-अनजाने में ऐसा होता है की पैरेंट्स, दोस्त और रिश्तेदार पीछे छुटने लगते हैं। एक नई दुनिया में प्रवेश करते ही कुछ समय के लिए तो ये सब बहुत अच्छा लगता है लेकिन जल्दी ही अपनों का प्यार और अपनापन याद आने लगता है। वास्तव में अगर जीवन में आनंद, हर्षोल्लास, प्रेम तथा प्रसन्नता न हो तो यह जीवन नीरस सा प्रतीत होता है। यदि रिश्तों में ग़लतफ़हमी की वजह से दरार आ गई है तो होली के पर्व पर अपने सभी मनमुटाव भुला कर नए सीरे से रिश्तों की प्यार भरी शुरुआत करें। 

होलिका दहन : ये है शुभ मुहुर्त और पूजा विधि, जो बना देगी मालामाल 


किसी प्रकार का भाइयों से मनमुटाव या भूमि विवाद हो तो 11 नीम की पत्तियां और लाल चंदन, होलिका दहन में अर्पित करें।

पिता या किसी बुजुर्ग से विवाद समाप्ति के लिए हल्दी की 7 गांठें और एक मुट्ठी चने की दाल डालें।

पुत्र या पुत्री से परेशानी हो या वह कहने में न हो तो सूखे प्याज, लहसुन और हरा नींबू डालें।

दांपत्य जीवन में मिठास लाने के लिए-रुई की 108 बत्तियां, देसी घी में भिगो कर होलिका में संबंध सुधार की अनुनय सहित एक-एक करके परिक्रमा करते हुए डालें। यह उपाय माता-पिता अपने बच्चों, वर-वधू की फोटो पर घुमा कर भी कर सकते हैं।

कार्यसिद्धि के लिए, खोपे के दो आधे-आधे कटोरे की शक्ल में टुकड़े कर लें। इसमें कपूर, काले तिल, बर्फी, सिंदूर, हरी इलायची, लौंग रख कर इस मंत्र की एक माला करें- ओम् हृीं क्लीं फट् स्वाहा! सामग्री को काले कपड़े में बांध कर होलिका में 7 परिक्रमा करके अर्पित कर दें।

होली से 1 रात पहले कर लें ये महाटोटका, नकारात्मक शक्तियां हमेशा रहेंगी दूर

 

Related Stories:

RELATED हनुमान जयंती: शुभ संयोग में करें ये उपाय, हर संकट को जड़ से उखाड़ फेंकेगे संकटमोचन