इतिहास: आज का दिन है विमान अपहरण की सनसनीखेज घटना का गवाह

नई दिल्ली: देश में आपातकाल के हंगामों के बीच 1976 में 10 सितंबर के दिन इंडियन एयरलाइंस के एक विमान को बड़े नाटकीय अंदाज में अगवा कर लिया गया था और उतने ही सनसनीखेज अंदाज से उसमें सवार सभी यात्रियों और चालक दल के सदस्यों को सुरक्षित बचा लिया गया था।  10 सितंबर, 1976 को दिल्ली के पालम हवाई अड्डे से इंडियन एयरलाइंस के बोइंग 737 विमान ने 66 यात्रियों के साथ मुंबई (तब बंबई) के लिए उड़ान भरी थी। रास्ते में दो अपहरणकर्ताओं ने पायलट को पिस्तौल दिखाकर विमान का अपहरण कर लिया। अपहरणकर्ता विमान को लीबिया ले जाना चाहते थे, लेकिन पायलट की समझदारी से विमान को लाहौर ले जाया गया और वहां पाकिस्तानी अधिकारियों के सहयोग से विमान यात्रियों और चालक दल के सदस्यों को सुरक्षित मुक्त कराया गया। यह घटना दोनो देशों की सरकारों के अनूठे तालमेल की मिसाल है।  इतिहास में 10 सितंबर की तारीख में दर्ज अन्य महत्वपूर्ण घटनाओं का सिलसिलेवार ब्यौरा इस प्रकार है:-   
 

  • 1846 : एलायस होवे ने सिलाई मशीन का पेटेंट कराया।
  •  1847 : हवाई द्वीप में पहला थियेटर खुला। 
  • 1887 : भारतीय स्वतन्त्रता सेनानी एवं उत्तर प्रदेश के प्रथम मुख्यमंत्री गोविन्द बल्लभ पंत का जन्म। 
  • 1926 : जर्मनी मित्र राष्ट्रों के संघ में शामिल हो गया। 
  • 1935 : दून विद्यालय की स्थापना।
  • 1939 : कनाडा ने द्वितीय विश्वयुद्ध में जर्मनी के $खलिाफ़ युद्ध की घोषणा की। 
  • 1966 : संसद ने पंजाब एवं हरियाणा के गठन को मंजूरी दी। 
  • 1973 : सेंट्रल लंदन में बम धमाके।
  • 1974 : अफ्रीकी देश गिनी ने पुर्तगाल से स्वतंत्रता हासिल की। 
  • 1976 : इंडियन एयरलाइंस के बोइंग 737 विमान का अपहरण। विमान को लाहौर ले जाया गया। यात्री और चालक दल के सदस्य सकुशल मुक्त कराए गए। 
  • 1996 : संयुक्त राष्ट्र आम सभा में व्यापक परमाणु परीक्षण प्रतिबंध संधि 3 के मुकाबले 158 मतों से स्वीकृत, भारत सहित तीन देशों द्वारा संधि का विरोध। 
  • 1926 : जर्मनी ने ‘लीग ऑफ नेशंस’ की सदस्यता ली।
  •  2002 : यूरोपीय देश स्विट््जरलैंड संयुक्त राष्ट्र का सदस्य बना। 
  • 2007 : एक नाटकीय घटनाक्रम में पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ़ को स्वदेश लौटने के बाद पुन: जेद्दा निर्वासित। 
  • 2008  स्विटजरलैंड की सर्न प्रयोगशाला के लार्ज हेड्रॉन कोलाइडर में सबसे बड़ा वैज्ञानिक प्रयोग शुरू हुआ। 
यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!