Kundli Tv- क्या आपके पास है हिंदू धर्म से जुड़े इन 3 प्रश्नों का उत्तर?

ये नहीं देखा तो क्या देखा (देखें VIDEO)
हिंदू धर्म एक एेसा ग्रंथ है जिसमें ज्ञान का सागर है। इसके साथ ही इसमें एेसी और कई  रहस्यमयी बातों का वर्णन पढ़ने को मिलता है जिनका रहस्य आज तक नहीं सुलझ पाया। तो चलिए आज बात करते हैं हिंदू धर्म से संबंधित एेसे 3 प्रश्नों के बार में जिनका उत्तर आज भी किसी के पास मिलना संभव नहीं है। 
PunjabKesari
क्या कल्प वृक्ष को दोबारा खोजा जा सकता है
हिंदू धर्म में मानने वाले लोगों को कल्प वृक्ष के बारे में जरूर पता होगा। लेकिन अगर आप नहीं जानते तो आज हम आपको इसके बारे में अच्छे से जानकारी देने जा रहे हैं। 
आपको बता दें कि कल्प वृक्ष समुद्र मंथन के समय निकला था, जब देवता और असुर मिलकर अमृत के लिए समुद्र मंथन कर रहे थे तो बहुत सी वस्तुएं उसमें से निकली थी जिनमें से एक कल्प वृक्ष भी था। इस वृक्ष की खासियत यह थी कि इस वृक्ष के नीचे बैठकर जो भी मांगते थे वह पूरा हो जाता। मान्यता है कि इंदर भगवान ने इस वृक्ष को उत्तरी हिमालय में सुराख्नण्ड नाम के पर्वत पर लगा दिया था। लेकिन आज तक कोई इसको खोजा नहीं पाया और न ही इसे खोजने में कोई सक्षम है। 
PunjabKesari
क्या आज भी संजीवनी बूटी मिलना संभव है
संजीवनी बूटी के बारे में सभी जानते होंगे, जब राम का रावण के साथ युद्ध चल रहा था तो रावण के पुत्र मेघनाथ ने नागास्त्र से लक्ष्मण को घायल कर दिया था। लक्ष्मण इस वार से मूर्छित हो गए थे तब राज वेध ने उनके उपचार के लिए संजीवनी बूटी की मांग की थी, जिससे हनुमान जी हिमालय से लेकर आए थे। संजीवनी बूटी की पहचान ना होने की वजह से हनुमान जी पर्वत ही उठा कर लंका ले आए थे।
PunjabKesari
क्या अमृत कलश को दोबारा खोजा जा सकता है
जब देवता और असुरों ने अमृत के लिए समुद्र मंथन किया था तो उसमें से बहुत सी चीज़े निकली थी जो असुरों और देवताओं में बटती जा रही थी। जब आखिर में अमृत का कलश निकला तो वह असुरों के हाथ लग गया पर देवताओं ने अपनी चालाकी से उसे हासिल कर उसे पी लिया और वह अमर हो गए। क्या वह अमृत कलश दोबारा खोजा जा सकता है ?
घर से निकलने से पहले जान लें ये secret(देखें VIDEO)

× RELATED Kundli Tv- क्या आपको पता है महिलाएं भी कर सकती हैं हनुमान जी की पूजा?