यहां खतरे में महिलाओं की इज्जत, टॉयलेट तक में लगे हैं स्पाई कैम

इंटरनैशनल डेस्कः दक्षिण कोरिया में महिलाएं समानता और सुरक्षा की मांग को लेकर बड़ी संख्या में सड़कों पर उतरी हैं। पिछले कुछ समय से देश में चल रही जासूसी-कैमरे की समस्या से महिलाएं न तो घर में सुरक्षित हैं और न ही बाहर। आलम ये है कि उनके घर से लेकर पब्लिक टॉयलेट तक में स्पाई कैम (खुफिया कैमरे) लगाए गए हैं और उन तस्वीरों को पॉर्न फिल्मों के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है। 

दरअसल साउथ कोरिया में पब्लिक टॉयलेट में छिपाकर रखे गए कैमरों से महिलाओं के निजी पलों की तस्वीरें और वीडियो बनाए जा रहे हैं। इसके अलावा  स्टेशनों पर ऐसे कैमरों की मदद से उनके स्कर्ट के अंदर की तस्वीर खींची जा रही है। फिर इन तस्वीरों और वीडियो को इंटरनेट पर डाला जा रहा है। व्यापक स्तर पर चल रहे इस 'स्पाई कैम पॉर्न' के खिलाफ महिलाओं ने जमकर प्रदर्शन किया।  

साउथ कोरिया की राजधानी सियोल में 'स्पाई कैम पॉर्न' के खिलाफ हजारों महिलाएं पोस्टर-बैनर लेकर सड़क पर उतरी। इन महिलाओं ने छिपे हुए कैमरों की मदद से ली जा रहीं अंतरंग तस्वीरें और वीडियो को फैलाने के खिलाफ सरकार से सख्त कार्रवाई की मांग की। महिलाओं का कहना है कि साउथ कोरिया में इस समस्या ने इतना विकराल रूप ले लिया है कि वे लगातार मानसिक दबाव से जूझ रहीं हैं। 
 

Related Stories:

RELATED उ. कोरिया के साथ तीसरे शिखर सम्मेलन से पहले द. कोरिया में बढ़ रहा है अविश्वास