21 साल से छात्राें में राष्ट्रीय एकता की भावना जगा रहा स्वास्थ्य विभाग का कर्मचारी

ऊना (विशाल): प्रदेश में राष्ट्रीय एकता की भावना को जागृत रखने के लिए एक संस्था पिछले 21 वर्षों से लगातार कार्यरत है। सैल्फ फायनांस के तहत उक्त संस्था के पदाधिकारी लाखों रुपए खर्च कर प्रदेश के विभिन्न जिलों में सरकारी स्कूलों के विद्यार्थियों को राष्ट्रीय ध्वज के स्मृति चिन्ह और बैज पिछले 21 सालों से बांट रहे हैं। लगभग 21 साल पहले ऊना जिला के गुगलैहड़ निवासी विजय अग्रिहोत्री ने इस कार्य को शुरू किया और धीरे-धीरे विक्ट्री इंडिया नैशनल आॅर्गेनाइजेशन का गठन किया। विजय स्वास्थ्य विभाग में कार्यरत हैं और मौजूदा दौर में शिमला में पोस्टेड हैं। इस संस्था में मौजूदा दौर में लगभग 15 सदस्य शामिल हैं। विजय अग्रिहोत्री इस संस्था के फाऊंडर हैं जबकि महेश कुमार को संस्था का अध्यक्ष मनोनीत किया गया है।

साल में 2 बार विद्यार्थियों को बांटे जाते हैं राष्ट्रीय ध्वज के स्मृति चिन्ह

उक्त संस्था द्वारा 26 जनवरी और 15 अगस्त से कुछ दिन पहले हर साल सरकारी स्कूलों के विद्यार्थियों को राष्ट्रीय ध्वज के स्मृति चिन्ह बांटे जाते हैं। इन पर सालाना लगभग 2 लाख रुपए खर्च आता है जोकि संस्था के पदाधिकारियों द्वारा स्वयं वहन किया जाता है। गौरतलब है कि विजय अग्रिहोत्री द्वारा इस कार्य के लिए अपनी 2 माह की सैलरी डोनेट की जाती है। वहीं अन्य सदस्य भी अपनी जेब से रुपए खर्च कर चिन्ह खरीदकर विद्यार्थियों में बांटते हैं। मौजूदा समय में उक्त संस्था द्वारा ऊना, सोलन, कांगड़ा और शिमला में इस कार्य को किया जा रहा है।

भविष्य में जारी रहेगा कार्यक्रम

संस्था के फाऊंडर विजय अग्रिहोत्री का कहना है कि बच्चों में राष्ट्रीय एकता की भावना को जागृत रखने के लिए पिछले 21 सालों से उक्त कार्य को किया जा रहा है। बच्चों में देशभक्ति की भावना आए और शहीदों को हमेशा याद रखा जाए इसके लिए एक कार्यक्रम चलाया गया है जोकि आगे भी जारी रहेगा।

Related Stories:

RELATED बंदूकधारियों ने पीडीडी कर्मचारी को गोली मारी, घायल