ब्रिटेन में  भारतवंशी परिवार पर नस्लीय हमला, युवकों के घर में लगाई आग

लंदनःब्रिटेन निवासी एक भारतवंशी परिवार पर नस्लीय हमले का समाचार है। मामला शनिवार रात का है। मयूर कारलेकर अपनी पत्नी और बच्चों के साथ घर में सोए थे। इसी दौरान पड़ोसियों ने परिवार को घर में आग लगने की जानकारी दी। साथ ही फायर ब्रिगेड को भी फोन कर दिया। इसके बाद दमकल कर्मियों की टीम लंबे समय तक आग बुझाने के लिए जूझती रही। पुलिस इस घटना को नस्लीय हिंसा मानकर जांच कर रही है। 

पुलिस हमलावरों का पता लगाने के लिए घर के बाहर लगे सीसीटीवी को खंगाल रही है। सीसीटीवी कैमरे में चार से पांच युवक घर को आग लगाने की कोशिश करते नजर आ रहे हैं। सभी के चेहरे ढके हुए थे। अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हो पाई है। घटना पर मयूर का कहना है कि पड़ोसियों की वजह से वह सही सलामत बच निकले, लेकिन उनकी संपत्ति को काफी नुकसान पहुंचा।

यह घटना एक झटके की तरह है। मयूर सोशल मीडिया पर लोगों से हमलावरों को पकड़वाने की अपील कर रहे हैं। मयूर मूलत: महाराष्ट्र के थाणे जिले के डोम्बिवली के रहने वाले हैं।आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक, ब्रिटेन में 2016 में हुए ब्रेग्जिट के बाद से नस्लीय हिंसा की घटनाओं में बढ़ोतरी हुई। 2015-16 में जहां नस्लीय हिंसा की 62,518 घटनाएं हुईं, वहीं 2016-17 में यह बढ़कर 80,393 के आंकड़े तक पहुंच गई। ब्रिटिश पुलिस रंग, धर्म, लिंग और विकलांगों के खिलाफ की गई हिंसा को नस्लीय हिंसा मानती है।  

Related Stories:

RELATED ब्रिटेनः पाकिस्तानी मूल के काउंसलर ने महिलाओं को भेजी टॉपलेस फोटो