हनुमान जयंती: इस पाठ में हैं चमत्कारी शक्तियां, पूरी होती है हर मुराद

ये नहीं देखा तो क्या देखा (Video)


19 अप्रैल को चैत्र माह की पूर्णिमा तिथि है। इस दिन हनुमान जी का जन्मोत्सव मनाया जाएगा। हनुमान जी की कृपा से सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं। हनुमान जयंती के दिन हनुमान चालीसा या सुन्दरकांड का पाठ करना चाहिए। हनुमान जी के पाठ से भूत बाधा, प्रेत बाधा, ऊपरी बाधा का निवारण होता है, सर्व कष्टों अर्थात नौकरी, व्यापार में बाधा एवं रोगों का निवारण भी हनुमान जी के पाठ से हो जाता है। हनुमान जयंती के दिन हनुमान जी के मंदिर जाएं हनुमान चालीसा का कम से कम 11 बार पाठ करें, इससे जीवन में चल रही हर तरह की समस्या का नाश होता है।

जो व्यक्ति हर रोज़ हनुमान चालीसा का पाठ करता है, उसके आत्मबल में वृद्धि होती है और आर्थिक चिंताएं उस से कोसों दूर रहती हैं ।

भूत-पिशााच और नकारात्मक शक्तियों से पीछा छुड़ने के लिए हनुमान चालीसा के इस दोहे का पाठ करें- भूत पिशाच निकट नहीं आए, महावीर जब नाम सुनावे। 

लाइफ में जब कभी भी असमंजस या धर्मसंकट की स्थिती बने तो हनुमान चालीसा का पाठ करें। 

घातक से घातक रोग से मुक्ति पाने के लिए इस चौपाई का पाठ करें- नासै रोग हरै सब पीरा। जपत निरन्तर हनुमत बीरा। 

स्टूडेंट्स को शिक्षा के क्षेत्र में मनचाही सफलता पाने के लिए नियमित रुप से हनुमान चालीसा का पाठ करना चाहिए। संभव न हो तो इन पंक्तियों का जाप करें- 'विद्यावान गुनी अति चातुर। राम काज करिबे को आतुर।। 

Related Stories:

RELATED मनचले युवकों पर भारी पड़ी पुलिस, ऐसे सिखाया सबक