तेजाब हमले के पीड़ितों को मासिक पेंशन देगी हरियाणा सरकार

चंडीगढ़(धरणी): हरियाणा सरकार ने अब तेजाब हमले की पीड़ित महिलाओं को मासिक पेंशन देने का फैसला लिया है। तेजाब पीड़ितओं को पेंशन देने की योजना के अनुसार यह पेंशन आजीवन दी जाएगी। यह फैसला मंगलवार को हुई हरियाणा कैबिनेट की बैठक में लिया गया। इसकी जानकारी राज्यमंत्री कृष्ण बेदी ने दी।



मंत्री बेदी ने बताया कि केन्द्र में भाजपा सरकार बनने से पहले केवल सात तरह की डिसएबिलिटीज को को लाभ देने की की कैटेगरी में रखा जाता था। लेकिन 2014 में भाजपा सरकार बनने के बाद 21 तरह के डिसेबल लोगों को विकलांगता पेंशन योजना की कैटेगरी में रखा गया है।

बेदी के अनुसार, इस योजना में तेजाब पीड़िता को भी लाभार्थी बनाने के लिए केन्द्र सरकार ने योजना बनाई है, अब हरियाणा में भी इसे पास कर दिया गया है। इस योजना के तह 2 मई 2011 के बाद जो तेजाब हमले की पीड़ित महिलाएं या लड़कियां हैं, उन्हें नि:शक्तता के प्रतिशत के आधार पर वित्तीय सहायता दी जाएगी। बेदी ने बताया कि दिव्यांग लोगों के लिए 1800 रूपये पेंशन देने का प्रावधान है। वहीं तेजाब हमले की पीड़िताओं को भी इसका लाभ देने की योजना केन्द्र सरकार ने बनाई है। 



हरियाणा सरकार ने यह तय किया है कि 40-50 दिव्यांगता होने पर बुढ़ापा पेंशन अथवा दिव्यांग पेंशन के तहत मिलने वाली राशि का ढाई गुणा इन महिलाओं को दिया जाएगा। यदि दिव्यांग पेंशन 1800 रूपये तो तेजाब हमले की पीड़िताओं को 4500 रूपये पेंशन के रूप में दिया जाएगा। वहीं वे पीड़िताएं 51-60 प्रतिशत दिव्यांगता पर दिव्यांग पेंशन का तीन गुणा अर्थात 6300 रूपये और 61 प्रतिशत से अधिक दिव्यांगता पर दिव्यांग पेंशन का साढ़े चार गुणा अर्थात 8100 रूपये दिए जांएगे।



तेजाब पीड़ितों की मदद के लिए आगे आई हरियाणा सरकार, मुफ्त कराएगी इलाज

बेदी ने बताया कि यह सुविधा केन्द्र व पुरूष पीड़ितों पर यह योजना लागू होगी। हरियाणा में अभीतक तेजाब हमले के 15 केस आए हैं, अगर और भी आवेदन आएंगे तो  उनको भी इस योजना का लाभ दिया जाएगा।

Related Stories:

RELATED तेजाब हमले के पीड़ितों को मासिक पेंशन देगी हरियाणा सरकार