अद्धैसैनिक बल भर्ती के लिए नेपालियों को लंबाई में छूट दे सकती है सरकार

नई दिल्लीःकेंद्रीय गृह राज्य मंत्री किरेन रिजिजू ने बुधवार को कहा कि गृह मंत्रालय अद्र्धसैनिक बलों में शामिल होने के लिए भारत में रहने वाले नेपाली समुदाय के लोगों के लिए न्यूनतम लंबाई की अहर्ता में ढील देने पर विचार कर रही है। वह यहां रामदेव पंतजलि योगपीठ ट्रस्ट और भारत स्वाभिमान ट्रस्ट द्वारा आयोजित हरितालिका तीज महोत्सव में बोल रहे थे।

रिजिजू ने भारत की संस्कृति के विकास में नेपाली समुदाय के योगदान की सराहना की। उन्होंने कहा, ‘‘नेपाली समुदाय ने भारतीय संस्कृति के निर्माण में और उसे सहेजने में काफी महत्वपूर्ण भूमिका निभायी है और उनके इस विशाल योगदान को देखते हुए हम भारत में रहने वाले नेपाली समुदाय के अद्र्धसैनिक बलों में शामिल होने के लिए लंबाई की अहर्ता में ढील देने का प्रस्ताव दे रहे हैं।’’

मंत्री ने कहा कि लंबाई की न्यूनतम अहर्ता में यह छूट अनुसूचित जाति और जनजाति को दी गयी छूट जैसी होगी। जहां सामान्य वर्ग के पुरूष उम्मीदवारों के लिए न्यूनतम लंबाई 170 सेंटीमीटर एवं महिला उम्मीदवारों के लिए 157 सेंटीमीटर है, वहीं अनुसूचित जनजाति के पुरूष एवं महिला उम्मीदवारों के लिए यह सीमा क्रमश: 162.5 एवं 150 सेंटीमीटर है।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!
× RELATED पंजाब सरकार ने केंद्र से चुनाव के लिए मांगी पैरामिल्ट्री फोर्स की 20 कंपनियां