पंजाब में वेटर बनने के लिए मजबूर हुई लड़कियां, पढ़ें पूरी खबर

 

गिदडबाहा(संध्या): पंजाब में लाखों की संख्या में बेरोजगार घूम रहे पढ़े लिखे नौजवान लड़के-लड़कियों की सूची दिन-ब-दिन लंबी होती जा रही है व हमारी सरकार भी इस बेरोजगारी की गंभीर समस्या का हल करने में सफल नहीं हुई।

सरकार द्बारा बेरोजगारों को रोजगार देने के वायदे हुए खोखले साबित
सरकार द्बारा बेरोजगारों को रोजगार देने के वायदे खोखले बयान सिद्ध हो रहे हैं। महंगी पढ़ाईयों व अपने अभिभावकों के लाखों रुपए खर्च करवाकर भी नौकरियों की तलाश के लिए लड़के-लड़कियां अपने हाथों में डिग्रियां लिए फिरते हैं। कईयों की आयु निकल गई है व कईयों की निकलने वाली है, आखिर थक हारकर अपने खर्चे के लिए पंजाब की कई नौजवान लड़कियां थक हार कर मैरिज पैलेसों में गर्ल्स वेटर के काम पर लग गई हैं।

आज के युग में लड़का-लड़की में नहीं कोई अंतर
एक पैलेस में शादी के समारोह दौरान अपने अन्य साथियों सहित शराब सर्व कर रही मीना काल्पनिक नाम को जब इस काम को करने की मजबूरी के बारे में पूछा गया तो लड़की ने बताया कि उसने बी.ए तक की पढ़ाई की हुई है, परंतु आज तक उसे कहीं भी प्राइवेट रूप में भी नौकरी नहीं मिली। जिसके चलते उसने यह काम करना शुरू कर दिया क्योंकि उसने लड़कों को वेटर के तौर पर पैलेसों के अंदर काम करते देखा तो उसने भी यह सोच कर इस काम को चुन लिया कि आजकल के युग में लड़का व लड़की में किसी प्रकार का अंतर नहीं है।

Related Stories:

RELATED Its all about Girls as 'Aafat' is here