Kundli Tv- ये चांद भूलकर भी न देखें वरना...

ये नहीं देखा तो क्या देखा (देखें Video)

13 सितंबर, बृहस्पतिवार को भाद्रपद शुक्ल गणेश चतुर्थी का शुभ दिन है। अग्र पूजा के अधिकारी गणेश जी को इस दिन अपने घर लाने का विधान है। प्रत्येक भक्त अपनी श्रद्धा, भक्ति और सामर्थ्य के अनुसार गणेश जी की विशेष पूजा-अर्चना करता है। इस दिन बहुत सुंदर चांद निकलता है लेकिन भूल से भी इसका दीदार न करें। गणेश चतुर्थी पर चंद्रमा देखने पर झूठा आरोप लग सकता है। 


शास्त्रों में गणेश चतुर्थी को कलंक चतुर्थी भी कहते हैं। गणेश पुराण के अनुसार गणेश जी द्वारा चंद्रमा को श्रापित किया गया। अतः इस दिन चंद्र दर्शन करना निषेध माना गया है। ऐसा करने पर व्यक्ति पर कलंक दोष लगता है। गणेश पुराण में कहा गया है कालांतर में ब्रह्मा व नारद महेश्वर के दर्शन हेतु कैलाश गए तभी नारद ने विशिष्ट फल महेश्वर को अर्पित किया। तभी कार्तिकेय व गणेश के महेश्वर से फल की ज़िद करने पर ब्रह्मा की सलाह पर महेश्वर ने फल को छोटे पुत्र कार्तिकेय को दे दिया। जिससे देखकर चंद्रदेव गणेश जी पर हंस पड़े। इसी कारण क्रोधित गणेश जी ने चंद्रदेव को श्रापित कर दिया। श्राप के अनुसार इस दिन चंद्रदेव को देखने पर व्यक्ति पाप व अभिशाप का भागी होता है तथा उस व्यक्ति पर मिथ्यारोपण का कलंक लगता है।


ये चांद भूलकर भी न देखें वरना
 
आप पर चोरी लगने का इल्जाम आ सकता है। 
 
किसी की बीवी को छेड़ने का इल्जाम लग सकता है।
 
आप पर संशय किया जा सकता है। 
 
आपकी बातों का गलत मतलब निकाला जा सकता है।
 
झूठे कोर्ट केस में फंसाया जा सकता है।
 
सामाजिक छवि को ठेस पंहुच सकती है।
 
विपरीत लिंग द्वारा आप पर लांछन लगाया जा सकता है।

GANESH CHATURTHI 2018 ऐसी सूंड वाले गणेश जी रखें अपने घर (देखें Video)

Related Stories:

RELATED Kundli Tv- कुछ इस अंदाज़ में हुआ बप्पा का Welcome