गडकरी बोले, तो 55 रुपए में पेट्रोल और 50 का मिलेगा डीजल

रायपुर: विपक्ष के भारत बंद के बाद केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने डीजल-पेट्रोल की कीमतों को लेकर अहम बयान दिया। उन्होंने कहा कि देश में पेट्रोलियम मंत्रालय पांच एथनॉल संयंत्र स्थापित कर रहा है, जहां एथनॉल का उत्पादन धान के भूसे, गेहूं के भूसे, बांस और गन्ना से किया जाएगा। उन्होंने कहा कि इससे पेट्रोल की कीमत 55 रुपए और डीजल की 50 रुपए हो सकती है। दुर्ग जिले के चरौदा नगर में कार्यक्रम के दौरान कहा कि छत्तीसगढ़ पूरे देश के लिए जैव ईंधन का बड़ा केन्द्र बन सकता है।

गडकरी ने बताया कि नागपुर में लगभग एक हजार ट्रेक्टर जैव ईंधन से चल रहे हैं। आज आवश्यकता जैव ईंधन के क्षेत्र में अनुसंधान करने की है। उन्होंने कहा कि हमने अभी पेट्रोल में एथनॉल मिलाकर वाहन चलाने का सफल प्रयोग किया है, इसे और अधिक बढ़ावा दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में उत्पादित जेट्रोफा जैव ईंधन का इस्तेमाल पहली जैव ईंधन वाली उड़ान में किया गया, यह विमान देहरादून से दिल्ली पहुंचा। गडकरी ने कहा कि हम आठ लाख करोड़ रुपए के पेट्रोल और डीजल आयात कर रहे हैं और इसकी कीमतें बढ़ रही हैं। रुपया डॉलर के मुकाबले गिर रहा है। मैं पिछले 15 सालों से कह रहा हूं कि देश के किसान, आदिवासी और वनवासी एथनॉल, मेथनॉल, जैव ईंधन का उत्पादन कर सकते हैं और विमान उड़ा सकते हैं।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!