‘बादलों की ट्रांसपोर्ट से अकाली दल को 79 फीसदी फंडिंग’

चंडीगढ़(भुल्लर): आर.टी.आई. कार्यकर्ता एडवोकेट दिनेश चड्ढा ने खुलासा किया है कि शिरोमणि अकाली दल की 79 फीसदी फंडिंग बादलों के साथ संबंधित ऑर्बिट और डबवाली ट्रांसपोर्ट कर रही हैं। 
उन्होंने बताया कि वित्त वर्ष 2017-18 की फंडिंग की सूची दल के खंजाची नरेंद्र कुमार शर्मा ने चुनाव आयोग के पास जमा करवाई है।

इस मुताबिक दल के कुल 2,28,97,972 रुपए की फंडिंग 2017-18 में एकत्रित की। इसमें ऑर्बिट रिजॉर्ट्स लिमिटेड ने 87 लाख और डबवाली ट्रांसपोर्ट कंपनी लिमिटेड ने 94 लाख 50 हजार रुपए दिए हैं। ऑर्बिट और डबवाली दोनों ने कुल 1,81,50,000 रुपए अकाली दल को दिए हैं जो कि अकाली दल की सारी फंडिंग का 79 फीसदी बनते हैं। ऑर्बिट ने यह राशि 10 किस्तों जबकि डबवाली ने 6 किस्तों में दी है। 

चड्ढा का कहना है कि  2017-18 में अकाली दल को 126 दान राशियां अकाली नेताओं से मिली हैं। इन सब पर ऑर्बिट और डबवाली भारी हैं। अकाली दल को फंड देने वाली अन्य कंपनियों में इंटरनैशनल क्वाइल लिमिटेड, मीनार ट्रैवल्स, एवन साइकिल्स शामिल हैं। चड्ढा ने कहा कि यह जांच का विषय है कि ऑर्बिट और डबवाली ने अकाली दल को दान दिया है या इन्वैस्टमैंट की है। अकाली दल के कार्यकाल में ऑर्बिट और डबवाली के कारोबार में चोखा इजाफा हुआ है। उन्होंने कहा कि यह खतरनाक है कि कंपनियां राजनीतिक पार्टियों को पहले बड़े फंड देती हैं बाद में इन पार्टियों के सत्ता में आने के बाद कारोबारी लाभ लेती हैं। इस संबंध में चुनाव आयोग को कदम उठाने चाहिए। 

Related Stories:

RELATED बग्गा की अकाली दल में हुई वापसी, सुखबीर ने किया स्वागत