विदेश सचिव विजय गोखले की दो दिवसीय चीन यात्रा शुरू

बीजिंग: विदेश सचिव विजय गोखले रविवार को यहां पहुंचे और वह चीन के उच्च पदस्थ अधिकारियों और विदेश मंत्री वांग यी के साथ भारत-चीन संबंध से जुड़े महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा करेंगे। वह जैश ए मोहम्मद के प्रमुख मसूद अजहर को ‘वैश्विक आतंकवादी' घोषित करने के प्रयासों में बीजिंग द्वारा लगातार बाधा डालने के मुद्दे पर भी चर्चा करेंगे।

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि गोखले चीन के उप विदेश मंत्री कोंग शुनयू के साथ सोमवार को द्विपक्षीय वार्ता करेंगे और वांग से भी मुलाकात करेंगे जो स्टेट काउंसलर हैं। चीन की कम्युनिस्ट पार्टी (सीपीसी) में स्टेट काउंसलर का पद ऊंचे स्तर का माना जाता है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग के बीच पिछले वर्ष वुहान में अनौपचारिक रूप से शिखर सम्मेलन होने के बाद भारत- चीन के संबंधों में सकारात्मक गति आई थी। 

बहरहाल, 14 फरवरी को पुलवामा आतंकवादी हमले के बाद पाकिस्तान में रह रहे, जैश ए मोहम्मद के प्रमुख मसूद अजहर को ‘वैश्विक आतंकवादी' घोषित करने के प्रयास को चीन द्वारा बाधित करने से भारतीय पक्ष में निराशा हुई। बीजिंग में राजदूत रह चुके गोखले का दौरा इसलिए भी महत्वपूर्ण है कि चीन अपने सबसे बड़े अंतरराष्ट्रीय कार्यक्रम बेल्ट एंड रोड फोरम का आयोजन करने जा रहा है। गौरतलब है कि भारत इस कार्यक्रम का विरोध करता रहा है।

Related Stories:

RELATED बाबा केदारनाथ के दर्शनों के बाद बद्रीनाथ पहुंचे PM मोदी, करेंगे पूजा-अर्चना