पाक के विदेश मंत्री से मुलाकात को तैयार भारत: विदेश मंत्रालय

नेशनल डेस्क:  पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री इमरान खान ने भारतीय पीएम नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखकर दोनों देशों के बीच फिर से बातचीत शुरू करने का प्रस्ताव रखा है। इमरान ने दोनों देशों की शांति और स्थिरता की पहल के लिए विदेश मंत्रियों की बैठक का प्रस्ताव दिया। पाकिस्तान के इस अनुरोध को भारत सरकार ने स्वीकार कर लिया है। 


विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने अपने आधिकारिक बयान में कहा कि पाकिस्तान सरकार के अनुरोध पर भारत मीटिंग के लिए तैयार है। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और उनके पाकिस्तानी समकक्ष शाह महमूद कुरैशी के बीच यह बैठक संयुक्त राष्ट्र महासभा :यूएनजीए: सम्मेलन से इतर होगी। हालांकि, उन्होंने कहा कि अभी सिर्फ मुलाकात तय है, मुद्दा तय नहीं है।

रवीश कुमार ने कहा कि सीमा पार आंतकवाद पर भारत के रुख में कोई बदलाव नहीं हुआ है। बातचीत और आतंकवाद साथ-साथ नहीं चल सकते। उन्होंने कहा कि बीएसएफ के जवान की हत्या बहुत ही जघन्य घटना है। पाकिस्तान के सामने इस मुद्दे पर उचित फोरम में भारत बात रखेगा।

बता दें कि इमरान खान ने पत्र में लिखा कि मैं भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भेजे शुभकामना संदेश के लिए आभार व्यक्त करता हूं। आतंकवाद पर बात करने के लिए पाकिस्तान अभी भी तैयार है। व्यापार, जनता से जनता का संपर्क, धार्मिक यात्राएं और कुछ ऐसे मुद्दे हैं, जिन पर चर्चा के लिए हम पूरी तरह से तैयार हैं। भारत और पाकिस्तान, दोनों शांति की इच्छा रखते हैं और इसके लिए मैं विदेश मंत्रियों की वार्ता का प्रस्ताव रखता हूं।
 

Related Stories:

RELATED सरकार बनने के 100 दिन बाद PM इमरान के लिए आई बुरी खबर