NCR में प्रॉपर्टी की कीमत पर बंटे एक्सपर्ट्स, 30% तक गिरेंगी फ्लैट की कीमत

नई दिल्लीः दिल्ली में लैंड पूलिंग पॉलिसी के लागू होने से पहले से ही मंदी की मार झेल रहे गाजियाबाद के रियल एस्टेट सेक्टर में और मंदी आ सकती है। प्रॉपर्टी एक्सपर्ट चंद्र प्रकाश अरोड़ा ने कहा कि गाजियाबाद में रियल एस्टेट सेक्टर मंदी के दौर में फंसा हुआ है। टू बीएचके मकान की कीमत ग्रुप हाउसिंग में 45 से 50 लाख के बीच चल रही है। थ्री बीएचके फ्लैट की कीमत ग्रुप हाउसिंग में 55 से 60 लाख रुपए है। दिल्ली लैंड पूल पॉलिसी के लागू होने से टू और थ्री बीएचके फ्लैट की कीमत 20 से 30 प्रतिशत तक कम हो जाएगी। गाजियाबाद-नोएडा में करीब 20 प्रतिशत लोग प्रॉपर्टी लेते है। इनकी संख्या घटकर जीरो हो जाएगी।

गाजियाबाद विकास प्राधिकरण के चीफ टाउन प्लैनर इश्तियाक अहमद ने कहा कि में दिल्ली के खरीदारों की संख्या में गिरावट आ सकती है। ऐसे में गाजियाबाद में डिमांड कम होगी।

अभी लगेगा समय
गाजियाबाद के रियल स्टेट पर फिलहाल कोई असर नहीं पड़ेगा। इस योजना के अस्तित्व में आने में अभी 5 से 10 साल का समय लगेगा। क्रेडाई गाजियाबाद के जनरल सेक्रेटरी गौरव गुप्ता का कहना है कि आज के समय में लोगों को तुरंत घर चाहिए वह किसी प्रोजेक्ट का इंतजार नहीं करेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि जब यह प्रोजेक्ट आ जाएगा उस समय रियल स्टेट के दाम कम हो सकते हैं।

नहीं गिरेंगे फ्लैट के दाम
डीडीए की लैंड पूलिंग पॉलिसी का वेस्टर्न यूपी के रियल एस्टेट सेक्टर पर कोई असर नहीं पड़ेगा। यह दावा बिल्डरों के प्रमुख संगठन क्रेडाई (वेस्ट) ने किया। संगठन के उपाध्यक्ष अमित मोदी ने बताया कि अभी पॉलिसी नोटिफाइड होगी। इसके बाद लोग लैंड पूल करेंगे। फिर सरकार प्लानिंग करके सड़क, सीवर, बिजली पानी का काम शुरू करवाएगी। इन सब काम में 5-7 साल लग जाएंगे। तब तक लोग इंतजार क्यों करेंगे। वे दिल्ली की बजाय एनसीआर में फ्लैट लेकर रहना पसंद करेंगे। महासचिव सुरेश गर्ग ने बताया कि इस फैसले से एनसीआर में फ्लैटों के दाम गिरने की कोई संभावना नजर नहीं आती।
 

Related Stories:

RELATED रियल एस्टेट में बढ़ा 89 अरब रुपए का निवेश, 3 कारणों से NRI इन्वैस्ट कर रहे पैसा