APJ सत्या मॉडल यूनाइटेड नेशन्स कान्फ्रैंस के तीसरे संस्करण का आगाज

जालंधर (विनीत): ए.पी.जे. स्कूल, महावीर मार्ग में  ए.पी.जे. सत्या मॉडल यूनाइटेड नेशन्स कान्फ्रैंस के तीसरे संस्करण का शुभारम्भ कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने किया, जबकि पुड्डुचेरी के मुख्यमंत्री वी. नारायण स्वामी, ए.पी.जे. एजुकेशनल सोसायटी के आदित्य विजय बर्लिया और नवजोत कौर सिद्धू विशेषातिथि रहे। कालेज के प्रिंसीपल डा. सुचरिता शर्मा, स्कूल के प्रिंसीपल गिरीश कुमार और कान्फ्रैंस के आयोजक गौतम सेठ ने सभी अतिथियों का अभिनंदन किया। 
गौतम सेठ ने बताया कि इस कान्फ्रैंस में महानगर के 6 और अम्बाला के 1 स्कूल व 3 कालेजों के डैलीगेट्स भाग ले रहे हैं।  उन्होंने विभिन्न मुद्दों को उजागर करते हुए युवा पीढ़ी को एकजुट होकर आगे बढऩे की अपील की। इस दौरान युवाओं को श्री नवजोत सिंह सिद्धू और गुरमेहर कौर से विभिन्न विषयों पर विचार-विमर्श व प्रश्न पूछने का मौका भी मिला।


कड़ी मेहनत से बना ‘नॉन स्ट्राइकर टू सिक्सर सिद्धू’
नवजोत सिंह सिद्धू ने  अपने क्रिकेट के दिनों के अनुभवों को शेयर करते हुए बताया कि कैसे उनके क्रिकेट के दिनों के कप्तान कपिल देव ने उन्हें मोटीवेट किया और वह क्रिकेट की दुनिया में अपना नाम बना सके। देश में बढ़ रही नशाखोरी व भ्रष्टाचार मुद्दों का जिक्र भी करते हुए उन्होंने  इनके विरोध में सभी को एकजुट होने को प्रोत्साहित किया। वह शुरूआती समय में क्रिकेट की प्रैक्टिस में कम ध्यान लगाते थे, जिस कारण उनकी काफी आलोचना भी हुई, परन्तु जब उन्होंने अपनी इस आदत को छोड़कर घंटों मैदान में पसीना बहाना शुरू किया और इसका असर उनकी परफार्मैंस में भी देखने को मिला व विदेशी मीडिया ने भी उन्हें ‘नॉन स्ट्राइकर टू सिक्सर सिद्धू’ कहा।  जीवन में जो भी लक्ष्य निर्धारित करें, उसको पाने के लिए यदि जी जान से जुट जाएं तो कामयाबी जरूर मिलती है।

 

‘कमिटमैंट टू नेशन एंड हार्डशिप’ पर चलें युवा
पुड्डुचेरी के मुख्यमंत्री श्री वी.नारायण स्वामी ने मौजूद समय के यूथ को प्रत्येक कार्य में ‘जल्दबाजी’ दिखाने वाला बताया। उन्होंने कहा कि वर्तमान समय की युवा पीढ़ी इंस्टैंट बनी बनाई कॉफी अपने हाथ में चाहती है, परन्तु उस कॉफी को बनाने के लिए प्रयास भी करने पड़ते हैं। उन्होंने युवा पीढ़ी को मौजूद समय की राजनीति में सफाई करने के लिए उन्हें ‘कमिटमैंट टू नेशन एंड हार्डशिप’ के कथन पर प्रकाश डाला।

 

‘वर्तमान नारी ‘सशक्त’ 
मैडम नवजोत कौर सिद्धू ने महिला सशक्तिकरण पर प्रकाश डालते हुए वर्तमान समय की नारी को सशक्त बताया और कहा कि आज की नारी किसी भी काम में पीछे नहीं है और हर कार्य में पुरुष के साथ कंधे से कंधा मिलाकर आगे बढ़ रही है और सशक्त है।  देश में विभिन्न उच्च पदों पर आसीन महिलाओं को जिक्र करते हुए उन्होंने सभी को उनसे प्रेरणा लेने को कहा।

 

इन 10 कमेटियों पर होगी चर्चा
     जनरल एसैम्बली इंटरनैशनल सिक्योरिटी
     कमीशन ऑन द स्टेट्स आफ वुमैन
     ह्यूमन राइट्स काऊंसिल
     ड्रग कंट्रोल प्रोग्राम
     आल इंडिया राजनीतिक पार्टी मीट
     पंजाब विधान सभा
     फीफा
     मार्वल बनाम डी.सी.
    आर्डर आफ फिनिक्स
   इंटरनैशनल प्रैस

Related Stories:

RELATED भ्रष्टाचारियों पर कार्रवाई करने से कतरा रहे हैं सिद्धू ?