यूज़र्स का निजी डाटा चीन पहुंचा रहे Nokia स्मार्टफोन्स!

गैजेट डैस्क : अगर आप नोकिया स्मार्टफोन का इस्तेमाल करते हैं तो यह ख़बर आपको हैरत में डाल देगी। नोकिया स्मार्टफोन्स को लेकर एक रिपोर्ट जारी की गई है जिसमें दावा किया गया कि ये चोरी छिपे यूज़र्स  का पर्सनल डाटा चीनी सर्वरों पर भेज रहे हैं, जिससे यूज़र की प्राइवेसी को खतरा है। डाटा नियमों का उल्लंघन होने की खबरों के बाद फिनलैंड की डाटा प्रटेक्शन और जांच एजेंसी ने नोकिया पर इन्वैस्टिगेशन शुरू कर दी है। 

इस तरह की जानकारी हुई लीक

नॉर्वे की एक न्यूज़ वेबसाइट NRK ने दावा करते हुए कहा है कि उनके पास सबूत हैं कि नोकिया फोन्स यूज़र की संवेदनशील जानकारी को चीन में पड़े सर्वर पर भेज रहे हैं। टैक्नोलॉजी एक्सपर्ट हेनरिक ऑस्टैड ने बताया है कि उन्होंने नोकिया 7 प्लस स्मार्टफोन के ट्रैफिक को मॉनीटर किया, जिस दौरान उन्हें पता चला है कि फोन को ऑन करते ही यह यूज़र की जानकारी को चीनी सर्वर पर भेज रहा है। इस संवेदनशील जानकारी में यूज़र की लोकेशन, उसका SIM कार्ड नम्बर और फोन का सीरियल नम्बर भी शामिल है। इसके अलावा स्मार्टफोन की रियल टाइम मूवमेंट को भी ट्रैक किया जाता है। 

ऐसे भेजा जा रहा था सर्वर पर डाटा

नोकिया स्मार्टफोन्स के डाटा को vnet.cn डोमेन की सहायता से सर्वर तक भेजा जा रहा था। इस डोमेन की जांच की गई तो पता चला कि यह'चाइना इंटरनैट नैटवर्क इनफोर्मेशन सैंटर' से जुड़ा हुआ था। जिससे यह साफ हो गया कि यूज़र की जानकारी चीन में पड़े सर्वर में पहुंच रही है।

नोकिया ने मानी अपनी गलती

फिनिश स्टार्टअप कम्पनी HMD Global जोकि नोकिया ब्रैंड के स्मार्टफोन्स बनाती है ने कथित तौर पर माना है कि नोकिया 7 स्मार्टफोन्स डाटा को चीन में भेजते थे। उन्होंने इस एरर को जनवरी में सॉफ्टवेयर अपडेट के जरिए फिक्स कर दिया गया है। नोकिया ने कहा है कि उनके सॉफ्टवेयर में एक बग जरूर आया था, लेकिन अब उसे फिक्स कर दिया गया है।

Related Stories:

RELATED स्मार्टफोन यूज करते वक्त रखे इन बातों का ध्यान, कभी नहीं होगी आंखें खराब