Kundli Tv- अर्थव्यवस्था को गंभीर धक्का लगने की आशंका!

ये नहीं देखा तो क्या देखा (देखें VIDEO)

जालंधर (धवन): केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार ने काले धन को खत्म करने व भ्रष्टाचार पर लगाम लगाने के लिए 500 व 1000 के नोटों को खत्म करके बड़ा दाव खेला था। नोटबंदी के कारण पूरे देश में हलचल मच गई थी। उसके बाद से ही काले धन को लेकर समय-समय पर चर्चाएं चलती रहीं। अब ऐसी खबरें आई हैं कि विदेशों में पड़ा काला धन दुगुना हो गया है। 


कनाडा के ज्योतिषी प्रो. पवन कुमार शर्मा ने कहा कि सरकार द्वारा काले धन को खत्म करने के लिए की गई कार्रवाइयों का कोई लाभ मिलने वाला नहीं है। उन्होंने कहा कि 18 अगस्त, 2018 तक आर्थिक स्थिति निर्बल बनी रहेगी। सरकार पर कई प्रकार के आरोप लगेंगे, जिससे सरकार की छवि और खराब होगी। वास्तव में 8 फरवरी, 2017 से 18 अगस्त, 2018 तक का समय केन्द्र सरकार द्वारा लिए जाने वाले फैसलों से देश को कोई लाभ न मिलने का था। उन्होंने कहा कि मंगल की अंतरदशा में नरेन्द्र मोदी सरकार ने जो फैसले लिए उससे देश में अफरा-तफरी व तनाव वाला माहौल रहा। 


उन्होंने कहा कि 2022 से 2034 के बीच भारत में एक बार फिर से भ्रष्टाचार चरम सीमा पर पहुंच जाएगा तथा इस पर लगाम लगाने के लिए फिर एक बड़ा कानून बनेगा। जनता को आर्थिक स्थितियों का फिलहाल कोई लाभ मिलता दिखाई नहीं दे रहा है। ग्रह चाल से पता चलता है कि सरकार के फैसलों से जनता में आक्रोश और बढ़ेगा। 
उन्होंने कहा कि दीर्घकाल में भी देश को नोटबंदी से कोई लाभ होने की उम्मीद नहीं है और न ही इससे देश की अर्थव्यवस्था में कोई सुधार आएगा। आम जनता के जीवन में सुधार की निकट भविष्य में उम्मीदें नहीं हैं। भारत की कुंडली में मंगल समय-समय पर भ्रष्टाचारियों को दंडित करता रहेगा। 

Kundli Tv- अगर घर में पैसा नहीं रुक रहा, तो लक्ष्मी पूजन में न करें इनका इस्तेमाल

Related Stories:

RELATED गुरुमूर्ति ने कहा, नोटबंदी नहीं की गई होती, तो ढह जाती अर्थव्यवस्था