प्रसिद्ध डिजाइनर कार्ल लगेल्ड फील्ड का पैरिस में निधन

20वीं और 21वीं शताब्दी की सबसे प्रसिद्ध और लोकप्रिय डिजाइनरों में से एक कार्ल लगेल्ड फील्ड का पैरिस में निधन हो गया। वह 85 वर्ष के थे। लगेल्ड फील्ड चनैल की क्रियेटिव डायरेक्टर थे,जिसकी स्थापना ग्रेवेल चैनेल ने फ्रांन्स में की थी। 36 वर्ष की उम्र में 1983 में इस डायरेक्टर पद को संभालने के बाद लगेल्ड फील्ड ने फिर से चनैल को जीवित किया और इस फै्रंस हाउस के संस्थापक ने स्कल्ट सूट लिटिल ब्लैक ड्रेसेस और रजाई से बने हुए हैंड बैग बनाने शुरू किये।

उसने इसे एक सत्र में हिपहॉप के लैंस के जरिए बनाया और अगली बार कैलिफोर्निया को नुकसान हुआ। उसको ये मालूम नही था कि क्रान्तिकारी कोटों का क्या अर्थ होता है। हा ही के वर्षों में कंपनी का कारोबार काफी बढ़ा और लगेल्ड फील्ड अपने शानदार पैलिस सैट बनाने के लिए काफी प्रसिद्ध हुए। उन्होंने एफिल टॉवर का फिर से उत्पादन किया और चनैल ब्रान्ड के उत्पादकों को बढ़ावा दिया। 2012 के स्प्रिंग शो में फ्लोटेंस वारिक ने एक गाना गाया था।सबसे यादगार समय स्केन्डेविया से असंभव विशाल हिमखंड को लाना था। 2010 के शो से उसने इसे जहाज से यहां मंगवाया।

लगेल्ड फील्ड ने प्री सीजन शो में यात्रा करने की अवधारणा भी बनाई। कार्ल का काफिला वर्सेलेस लिनलिटगो स्कॉटलैंड, डिलास, सवाना, हवाना, और क्यूबा का दौरा किया। लगेल्ड फील्ड ने एक बार कहा था कि मैं अपने जीवन में सबसे ज्यादा प्यार करती हूं वह है नेक काम। भगवान का शुक्र है कि चनैल के लिए अपनी ड्यूटी के अतिरिक्त लगेल्ड फील्ड फर के क्रियेटिव डायरेक्टर हैं और इसे फैंन्डी में पहनने के लिए तैयार रखा था। यह पद उसने 1965 में प्राप्त किया था। डिजाइनर म्यूजिकल चियर्स के युग में जब क्रियेटिव डायरेक्टरों को अपने ब्रान्डेड काम के लिए तीन या उससे कम वर्ष का समय दिया जाता था तो लगेल्ड फील्ड ने शानदार काम करते हुए उस नियम को तोड़ दिया । बहुकार्य डिजाइनर ने अपने खुद के नाम पर कलेक्शन तैयार किए मगर अपनी अंतराष्ट्रीय प्रसिद्धि के बावजूद ना तो उसके नाम से प्रसिद्ध हुई मगर चनैल के लिए उसने काम के स्थर को मान्यता मिली।

कार्ल लैगेन्ड फील्ड का जन्म 10 सितंबर 1933 में जर्मनी के हंर्बग में हुआ था। लगेल्ड फील्ड अक्सर अपनी उम्र बताने में झूठ बोला करती थी साथ ही अपने अभिभावकों की पृष्ठभूमि और अपने रहने के बारे में जानकारी नहीं देता था। यह अविश्वसनीय है उनका नाम उनके फैशन करियर के शुरू के चरणों में ही चर्चा का विषय बन गया था। 1954 में 21 वर्ष की उम्र में ही लगेल्ड फील्ड ने अंतराष्ट्रीय वूल सेक्रियेट का खिताब जीता था। यह मंच उसने उस व्यक्ति के साथ सांझा किया था जो फैशन में उसका प्रतिद्वंदी बन गया और उसका नाम वाईसेंट लोरेन्स था जिसने उसकी ड्रेस डिजाइनर का खिताब जीता था। 


 

Related Stories:

RELATED शतरंज हो सकता है पेरिस 2024 ओलंपिक खेलो शामिल