फेसबुक पर बढ़ी राजनीतिक बहस तो गुस्से में घर जाकर लिया एेसे बदला

न्यूयार्कः सोशल मीडिया अब अपराधों को बढ़ावा देने की स्थली बनता  जा रहा है ।  फेसबुक पर लाइव सुसाइड और मर्डर के बाद के बाद अब नया अपराध सामने आया है।  इश नए मामले में फेसबकु पर एक राजनीतिक बहस इतनी आगे बढ़ गई कि शख्स ने दूसरे के घर पहुंच कर उसे गोली मार दी। आरोपी की पहचान ब्रायन सेबरिंग के तौर पर हुई है जिसपर अब मुकद्दमा चलेगा। सेबरिंग ने मीडिया को बताया कि वह सोमवार को काम से जल्दी वापस आकर अपने घर गया और फिर बंदूक लेकर एलेक्स स्टीफेंस के घर पहुंचा और उसे गोली मार दी।

सेबरिंग और स्टीफेंस आस पास ही रहते थे, लेकिन उनकी कभी मुलाकात नहीं हुई थी। सेबरिंग ने बताया कि 'मैं बुरा शख्स नहीं हूं, लेकिन इस शख्स ने मेरे परिजनों को नुकसान पहुंचाने की धमकी दी और मैं आपे से बाहर चला गया। ' सेबरिंग ने कहा कि अब वह संभवतः किसी थेरेपिस्ट के पास जाएंगे. उन्होंने कहा, 'क्योंकि मुझे अब इस बात का डर है कि मैं अपना आपा खो दूंगा और कुछ बुरा कर बैठूंगा। '

सेबरिंग की फायरिंग से स्टीफेंस की जांघों और कूल्हे घायल हो गए थे  हालांकि अब उन्हें अस्पताल से छुट्टी मिल गई है । डेमोक्रेट को समर्थन करने वाले सेबरिंग ने कहा कि उसने फेसबुक पर एक अपराधी की पोस्ट पर राय दी थी जिसने लिखा था कि मतदान का अधिकार खोने के बाद भी वह राजनीतिक राय रखना चाहता है। फ्लोरिडा में करीब डेढ़ करोड़ पूर्व कैदियों को वोट देने का अधिकार नहीं है।  ऐसा राज्य के संविधान में नियमों की वजह से हुई है।

 हालांकि नवंबर में राज्य के मतदाता इस बात का फैसला करेंगे कि यह बैन रहे या खत्म हो जाए। अगर 60 फीसदी मतदाता संवैधानिक संशोधन को मान लेते हैं तो पूर्व कैदियों के अधिकार उन्हें स्वतः मिल जाएंगे। डेमोक्रेट नेता इस नियम को बदलने के पक्ष में हैं, वहीं रिपब्लिकन नेताओं का मानना है कि पूर्व कैदियों को पहले यह साबित करना होगा कि वह अपने अधिकार हासिल करने के योग्य हो गए हैं। सेबरिंग ने बताया कि उसने लिखा कि अगर कोई अपनी राय देना चाहता है तो आपराधिक कृत्य ना करें, समाज में सकारात्मक योगदान करें।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!
× RELATED ट्रेडिशनल लुक में पति विराट के साथ एड शूट कर रही हैं अनुष्का,  तस्वीरें आईं सामने