आपकी 5 गलत आदतें कम कर रही हैं जिंदगी के 5 साल!

भागदौड़ भरे इस लाइफस्टाइल में सेहत को नजरअंदाज करना आने वाले समय में आपको बीमारियों के घेरे में ले सकता है शायद आप इस बात से अनजान है कि स्वास्थ्य से जुड़ी बुरी आदतें हमारी जिंदगी के साल कम कर देती है।  इन्हीं गलतियों की वजह से हमारी जिंदगी का अधिक हिस्सा बीमारियों से जूझ रहा है, जिस वजह से लोग हमारी जिंदगी कम होती जा रही हैं। अगर आप भी हमेशा स्वस्थ रहना चाहते है तो आज ही अपनी गलत आदतों को छोड़ दें।

सुबह का नाश्ते में ढील

आजकल के बिजी टाइम में अक्सर लोग सुबह का नाश्ता नहीं लेते और लंच टाइम में भर पेट खाना खाते हैं। इससे शरीर में मेटाबॉलिज्म कम हो जाता है। इकट्ठे ज्यादा खाना खाने से शरीर में वसा की मात्रा भी बढ़ जाती है तथा मोटापे भी तेजी से बढ़ने लगता है। इसके अलावा, शरीर पर्याप्त ऊर्जा प्राप्त नहीं कर पाता इसलिए हमेशा चाहे हल्का खाए लेकिन सुबह का नाश्ता जरूर करें।

अच्छी व पर्याप्त नींद ना लेना

कहते है कि जो नींद व्यक्ति पूरी करके सुबह उठता है उसका पूरा दिन अच्छा रहता है क्योंकि उसका शरीर एनर्जी से भरपूर रहता है लेकिन आजकल फोन, टी.वी. जैसे उपकरणों की वजह से लोग नींद नहीं लेते और अगली सुबह चिड़चिड़ेपन से गुजरते हैं। सारा दिन शरीर सुस्त रहता है क्योंकि रोजाना 5 घंटे से कम नींद लेने पर प्रतिरक्षा प्रणाली कमजोर हो जाती है और हृदय रोग, उच्च रक्तचाप, वजन और मधुमेह जैसी समस्याएं बढ़ने लगती हैं। इसलिए बेहतर होगा कि रात के समय पर्याप्त 7-8 घंटे की नींद ली जाए ताकि आपका स्वास्थ्य अच्छा बना रहे।

शराब का अत्यधिक सेवन

शराब पीकर इंसान अपनी सोचने-समझने की शक्ति को खो देता है। शोध से पता चलता है कि एक स्वस्थ पुरुष को शराब का सेवन 3 से 4 पैग और स्त्री को 2 से 3 पैक ही करना चाहिए। मगर अक्सर लोग इसकी अत्यधिक मात्रा लेकर शारीरिक रुप से भी कई प्रकार की बीमारियों का शिकार होते है। रोजाना लगातार सेवन करने से लीवर खराब व दिल का दौरा, हाई ब्लड प्रेशर जैसी बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है। 

फिजिकल एक्टिविटी कम करना

मॉडर्न समय में इंसान टैक्नोलॉजी पर इतना ज्यादा निर्भर हो गया है कि वह हर काम को बिना किसी मेहनत के करना चाहता है। इस आदत के कारण शरीर से पसीना कम निकलता है और हानिकारक पदार्थ शरीर में इकट्ठे होने लगते हैं। इसलिए दिन चर्या में एक्सरसाइज जरूर शामिल करें। औरतें घर के काम जैसे झाड़ू पौंछा बर्तन खुद करें तो यह भी एक तरह की एक्सरसाइज ही है।

 

पेनकिलर का ज्यादा सेवन

छोटी-मोटी बीमारी होने पर पेनकिलर का सेवन आपको उस समय तो तुंरत आराम दे देता है लेकिन इससे होने वाले साइड इफैक्ट्स आपके शरीर को बुरी तरह प्रभावित करते हैं। इसकी जगह घरेलू नुस्खों को अपनाना चाहिए। जैसे सर्दी, जुकाम में दवाई की जगह घर का बना काढ़ा, बेसन का हलवा व अन्य घरेलू चीजों का सेवन करें।


 

Related Stories:

RELATED जीवन को बर्बाद कर सकते हैं ये 3 काम