फाइव स्टार होटल में नहीं रुकेंगे 17वीं लोकसभा के निर्वाचित MP

नई दिल्लीः 17वीं लोकसभा के लिए निर्वाचित होने वाले सदस्यों का नाम लोकसभा चुनाव के परिणाम आने के साथ ही तय हो जाएंगे। इसके साथ ही निर्वाचित सभी सदस्यों को भारत की संसद की ओर से बधाई दी जाएगी। जीत दर्ज करने वाले सभी सदस्यों के लिए इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे सहित राजधानी के चार प्रमुख रेलवे स्टेशनों पर आगवानी की व्यवस्था होगी।

जानें क्या है सांसदों की व्यवस्था
इसके साथ ही सांसदों के संसद भवन जाने के लिए परिवहन की व्यवस्था भी की गई है। इनके लिए आवास डेस्क का गठन भी किया गया है। इसके साथ ही नवनिवार्चित सांसदों का स्थाई पहचान पत्र जारी किए जाने के साथ-साथ रेल पास और सदस्य परिचय कार्ड दिया जाएगा।

लोकसभा में चुनकर आने वाले नए सांसदों को इस बार पांच सितारा होटलों में नहीं ठहराया जाएगा। उनके लिए सरकारी अस्थाई आवास, वेस्टर्न कोर्ट (सांसद हॉस्टल) व दिल्ली स्थित राज्यों के अतिथि गृहों में व्यवस्था की जा रही है। इससे होटलों पर होने वाले भारी भरकम खर्च और सांसदों को होने वाली असुविधा से बचा जा सकेगा।

लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा ने दिए निर्देश
लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने नए सांसदों के आवास व अन्य सुविधाओं के लिए लोकसभा सचिवालय को इस महीने की शुरूआत में निर्देश दे दिए थे। सूत्रों के मुताबिक, सचिवालय के निर्देश पर वेस्टर्न कोर्ट में सौ कमरे तैयार किए जा रहे हैं। यह एक तरह से सांसदों का हॉस्टल है, जिसमें एक शयनकक्ष है।

इसके साथ ही विभिन्न राज्यों के अतिथि गृहों में 280 कक्ष आरक्षित करने के लिए कहा गया है। यहां 200 सांसदों के रुकने की व्यवस्था होगी। जिन राज्यों से ज्यादा सांसद चुनकर आएंगे। उन्हें दूसरे राज्यों के अतिथि गृहों में ठहराया जाएगा।
 

Related Stories:

RELATED लोकसभा के निर्वाचित सदस्य सोमवार को लेंगे शपथ