HRTC की कार्यप्रणाली पर उठे सवाल, वृद्ध ने परिचालक पर जड़े ये आरोप

बिलासपुर (मुकेश): स्वारघाट उपमंडल के माकड़ी गांव के निवासी वृद्ध चरण सिंह ने हिमाचल पथ परिवहन निगम बिलासपुर के परिचालक पर पूरे पैसे लेकर टिकट कम देने और दुव्र्यवहार करने के आरोप लगाए हैं। चरण सिंह ने श्री नयनादेवी में पत्रकारों को बताया कि वह मेहनत-मजदूरी करके अपने घर का पालन-पोषण करता है।

13 रुपए की बजाय 5 रुपए की थमा दी टिकट

उसने जब वह मजदूरी करने के उपरांत शाम को खाल सलोआ से अपने घर माकड़ी के लिए एच.आर.टी.सी. बिलासपुर की बस जो 5.30 बजे नयनादेवी से नंगल के लिए चलती है, उसमें सवार हुआ तो परिचालक उससे माकड़ी तक जाने के लिए 13 रुपए मांगे जिस पर उसने 13 रुपए दे दिए लेकिन परिचालक ने टिकट नहीं दी। जब उसने माकड़ी के पास पहुंचकर फिर टिकट की मांगी तो उक्त परिचालक ने 13 रुपए की बजाय 5 रुपए की टिकट थमा दी।

दोषी परिचालक पर उठाई कार्रवाई की मांग

जब उसने पूरी टिकट मांगी तो परिचालक ने उससे दुव्र्यवहार किया और कहा कि जहां भी शिकायत करनी है कर सकते हो। चरण सिंह ने कहा कि ये घटना 13 मई की है। उसने मांग की है कि इस घटना की जांच की जाए और दोषी परिचालक पर कार्रवाई हो ताकि वह पुन: कोई ऐसा दुव्र्यवहार किसी भी यात्री के साथ न करे।

Related Stories:

RELATED बहुराष्ट्रीय कंपनी के साबुन की गुणवत्ता पर उठे सवाल