छोटी-छोटी बातों को ध्यान में रख पाई रेलवे NTPC परीक्षा में सफलता, जाने कैसे की परीक्षा की तैयारी

एजुकेशन डेस्कः"कुछ करने की चाह इंसान को  सफलता  की राह दिखाती है ये कहना है भारतीय रेल के पद पर कार्यरत "उप स्टेशन प्रबंधक अनिल प्रताप" का। जैसा कि सभी को पता है कि रेलवे भर्ती बोर्ड ने लाखों पदों पर विज्ञप्ति जारी की गई है, और देखा जाए तो लाखों की संख्या में प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे लोग इन पदों पर आवेदन भी करेंगे। इसी के साथ कॉम्पटीशन भी बहुत अधिक होगा। लेकिन इन सबसे भी ज्यादा महत्वपूर्ण बात यह है की परीक्षा की तैयारी कैसे की जाएं। एक निजी चैनल से बातचीत में उप स्टेशन प्रबंधक ने यह बताया कि " रेलवे की NTPC" प्रतियोगी परीक्षाओं में सफल होने के लिए फोकस निर्धारित करना बेहद जरूरी है। फोकस समाने होने से आपको पता होता है की आपको किस तरह से तैयारी करनी है, क्या और कितना पढ़ना है। 

 

मेरी प्रारंभिक शिक्षा शहर- उरई जिले के जालौन उत्तर प्रदेश से हुई है। मैं हमेशा एक औसत दर्जे का विद्यार्थी रहा। सन् 2015 में ग्रेजुएट की परीक्षा उत्तीर्ण की और उसी समय रेलवे की NTPC की  विज्ञप्ति जारी हुई जिसमें मैंने आवेदन किया। मेरा छात्रों को सुझाव है कि आवेदन करते समय विज्ञप्ति को सही तरह से पढ़े व पोस्ट वरीयता का चयन विवेकानुसार करें जिससे भविष्य में कोई समस्या न हो। आवेदन करने के उपरान्त मैंने एक रूपरेखा व समय प्रबन्ध बनाया और एक बात पर ध्यान दिया की चयन के लिए कोई शार्ट-कट नहीं हैं।


परीक्षा की तैयारी में Speed Test, Mock test का महत्व: 

रूपरेखा में सबसे पहले बाजार से परीक्षापयोगी पुस्तकों का चयन किया व Online Speed Test, Mock test  को देना शुरू किया।  Speed Test व परीक्षापयोगी पुस्तकों का परीक्षा की तैयारी में बहुत महत्वपूर्ण योगदान  होता है। पुस्तकें अपना अध्ययन स्तर मजबूत करने या बढ़ाने के लिए उपयोगी रहती हैं व  Speed  Test समय प्रबन्धन व अपना अध्ययन स्तर आंकने के लिए उपयोगी रहते हैं। Speed Test, Mock test  देने से प्रारंभ में परिणाम निराशाजनक हो सकते हैं लेकिन निरन्तर अभ्यास व अथक परिश्राम से आप देखेगें कि आपकी परीक्षा की तैयारी में सुधार हो रहा है। Speed Test, Mock test में ये भी पता चलता है कि आप किन प्रश्नों पर ज्यादा समय ले रहे हैं। उन्हें लिख लें व उसे बार-बार रिवाइज करें। समय प्रबन्धन  सबसे महत्वपूर्ण कार्य है, उस पर ध्यान दें। निर्धारित समय में सभी प्रश्नों को हल करने का प्रयास करें। 


ऐसे बनाएं तैयारी की रणनीति:  

जिस विषय में आप कमजोर है उस पर ध्यान दें एवं जो विषय पर अच्छी पकड़ है उस पर भी ध्यान दें,  क्योंकि आत्मविश्वास अच्छा होता है अति आत्मविश्वास नहीं। परीक्षा में कुछ प्रश्न बहुत कठिन होते है जिन्हें हल करने में ज्यादा समय बर्बाद न करें। ज्यादातर प्रश्न पत्रों में एक या दो प्रश्न ऐसे आते हैं जिन्हें आप बाद में  हल कर सकते हैं। सभी प्रश्नों को हल करने के बाद ही ऐसे प्रश्नों को हल करें और तर्कशक्ति व गणित के प्रश्न हल करने का एकमात्र तरीका अधिक से अधिक प्रैक्टिस करना है।

Related Stories:

RELATED सफलता पाने के हैं इच्छुक, तो मन में आज ही थान लें ये संकल्प