चुनाव आयोग सुप्रीम कोर्ट में मोदी और शाह पर मंगलवार को पेश करेगा रिपोर्ट

नई दिल्ली: चुनाव आयोग मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी अध्यक्ष अमित शाह से जुड़े आदर्श आचार संहिता (एमसीसी) के उल्लंघन के मामलों को निपटाने के बारे में अपनी रिपोर्ट उच्चतम न्यायालय में पेश करेगा। चुनाव आयोग के वरिष्ठ उप चुनाव आयुक्त डॉ. संदीप सक्सेना ने सोमवार की शाम पांचवें चरण के मतदान की जानकारी देते हुए पत्रकारों के एक सवाल के जवाब में यह टिप्पणी की। जब उनसे पूछा गया कि क्या आयोग ने मोदी और शाह के खिलाफ आदर्श आचार संहिता उल्लंघन के सभी मामलों को निपटा दिया है तो डॉ. सक्सेना ने इसका सीधा जवाब नहीं दिया।

उन्होंने कहा कि मामला अभी उच्चतम न्यायालय में लंबित है, इसलिए वह इसकी पूरी जानकारी नहीं दे सकते, लेकिन आयोग न्यायालय में कल अपनी रिपोर्ट पेश करेगा। यह कहे जाने पर कि आयोग ने अब तक मोदी को छह मामलों में और शाह को दो मामलों में क्लीनचिट दी है, जबकि कांग्रेस ने प्रधानमंत्री के खिलाफ एमसीसी के 11 मामलों की शिकायत की है, डॉ. सक्सेना ने कहा कि वह इस बारे में कोई जानकारी देने के लिए अधिकृत नहीं है।

उन्होंने बताया कि अब तक देश भर में एमसीसी के 498 मामले सामने आए हैं और इनमें 49 मामलों की शिकायत मुख्य चुनाव आयुक्त के कार्यालय को मिली है, जिनमें 43 मामलों को निपटा दिया गया है और छह मामले अभी विचाराधीन हैं। इनमें बिहार का एक, छत्तीसगढ़ के दो और उत्तर प्रदेश के तीन मामले में हैं। यह पूछे जाने पर कि मोदी और शाह के एमसीसी के मामलों को चुनाव आयोग की वेबसाइट पर अब तक क्यों नहीं डाला गया है, डॉ. सक्सेना ने कहा, ‘हम उन्हीं मामलों को वेबसाइट पर डालते हैं जिनमें हम कोई नोटिस जारी करते हैं।'

गौरतलब है कि मोदी और शाह को चुनाव आयोग ने कोई नोटिस भी जारी नहीं किया था और उन्हें क्लीनचिट दे दिया था। यह भी पूछे जाने पर कि एमसीसी के जिन मामलों में क्लीनचिट दी गई है उनमें किन-किन मामलों में किसी चुनाव आयुक्त ने असहमति व्यक्त की थी, डॉ. सक्सेना ने इसकी जानकारी देने से इन्कार कर दिया। कांग्रेस सांसद सुष्मिता देव ने  मोदी और शाह के खिलाफ एमसीसी के उल्लंघन के मामलों को नहीं निबटाये जाने की शिकायत उच्चतम न्यायालय से की थी, जिसने आज तक इन सभी मामलों को निपटाने का निर्देश दिया था। आयोग ने पिछले दिनों आनन-फानन में मोदी को छह मामलों में तथा शाह को दो मामलों में क्लीनचिट दे दी थी।

Related Stories:

RELATED कुल्लू बस हादसे की मैजिस्ट्रेट जांच को कमेटी गठित, एक सप्ताह में सौंपेगी रिपोर्ट