DUSU चुनाव के लिए नामांकन का आज आखिरी दिन, नार्थ कैम्पस में रहेगी जाम की स्थिति

नई दिल्ली: दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ (डूसू) चुनाव के लिए नामांकन का आज (मंगलवार) को अंतिम दिन है। नामांकन के अंतिम दिन एनएसयूआई और एबीवीपी द्वारा अपने संभावित प्रत्याशियों का नामांकन कराया जाएगा। ऐसे में मंगलवार को नॉर्थ कैम्पस पूरी तरह से डूसू के रंग में रंगा दिखाई देगा।   

डूसू चुनाव में मुख्य मुकाबला कांग्रेस की छात्र इकाई एनएसयूआई और संघ की छात्र इकाई एबीवीपी के बीच होता है। दोनो ही संगठनों की यह नीति रही है कि नामांकन के अंतिम दिन अपने संभावित प्रत्याशियो का नामांकन कराते है। हर साल दोनों संगठन चार पदों के लिए चार से ज्यादा उम्मीदवारों का नामांकन कराते हैं, जिससे किसी एक या दो प्रत्याशी का पर्चा रद होने पर भी वह पूरा पैनल उतार सके। ऐसे में संभावितों में अपना टिकट पक्का कराने के लिए होड़ लगी रहती है और नामांकन के दौरान सभी संभावित जमकर अपना शक्ति प्रदर्शन करते हैं। मंगलवार को भी यही नजारा देखने को मिलने की उम्मीद है।नामांकन के लिए पहुंचे प्रत्याशियों ने अपना शक्ति प्रदर्शन करने में पूरी ताकत झोंक देंगे। 

रहेंगी सभी उम्मीदवारों पर नजर

नामांकन के दौरान एनएसयूआई और एबीवीपी के संगठन से जुड़े पदाधिकारी भी मौजूद रहेंगे। इस दौरान संगठन के पदाधिकारी अपने और दूसरे संगठन के उम्मीदवारों पर पैनी नजर रखेंगे। ऐसा एक जहां अपने संभावितों में मजबूत चार को चुनने के लिए होगा, तो दूसरा दूसरे संगठन के मजबूत और कड़ी टक्कर देने वाले संभावित की पहचान करने के लिए।

नार्थ कैम्पस में रहेगी जाम की स्थिति 

डूसू में नामांकन के लिए संभावित प्रत्याशी अंतिम दिन अपने लाव-लश्कर के साथ पहुंचेंगे और एक-एक के साथ सैकड़ों समर्थक होंगे, जो नारेबाजी करते हुए अपने प्रत्याशी के समर्थन में माहौल बनाते दिखाई देंगे। अपने प्रत्याशी को ऊपर दिखाने के लिए समर्थक नॉर्थ कैम्पस में ही जमे रहंगेे। जिसके चलते जाम की स्थिति बनी रह सकती है। 

रंग में भंग डाल सकती है झमाझम बारिश

राजधानी में पिछले तीन दिन से लगातार बारिश हो रही है और तीनों की दिन सुबह के समय झमाझम बारिश हुई है। ऐसे में यदि मंगलवार को भी सुबह के समय बारिश होती है,तो नामांकन के लिए आने वाले प्रत्याशियों के रंग में भंग पड़ सकता है, ऐसे में समर्थकों के कम संख्या में पहुंचने पर प्रत्याशी सहीं से अपना शक्ति प्रदर्शन नहीं कर पाएंगे। 

Related Stories:

RELATED अंकिव बसोया से छिना अध्यक्ष पद, ABVP ने किया बर्खास्त