डॉक्टरों की लापरवाही से जच्चा-बच्चा की मौत, परिजनों ने काटा हंगामा

मऊः सरकार के सख्त निर्देशों के बावजूद स्वास्थ्य विभाग लापरवाही करने से बाज नहीं आ रहा है। ताजा मामला मऊ जिले का है। जहां डिलीवरी के लिए महिला को अस्पताल में भर्ती कराया गया, यहां लापरवाही के चलते जच्चा-बच्चा की मौत हो गई। जिसके चलते परिजनों ने अस्पताल परिसर में जमकर हंगामा काटा। 

मामला कोपागंज थाने के अतरारी चंगी स्थित एक हाॅस्पिटल का है। यहां सेनुराईच गांव निवासी हरेन्द्र ने अपनी पत्नी को डिलीवरी के लिए 4 दिन पूर्व क्षेत्र के नैनसी हाॅस्पिटल में भर्ती कराया। जहां पर एक बच्चे की डिलीवरी अस्पताल के चिकित्सकों द्वारा की गई। उसके बाद महिला को घर भेज दिया गया, लेकिन घर जाते ही महिला को फिर से पेट में दर्द होना शुरू हो गया।

जिसके बाद फिर से अस्पताल में वापस भर्ती कराया गया। जहां पर मालूम चला कि पेट में एक और बच्चा हैं, जिसकी मौत हो गई हैं। मौत के कारण महिला के अन्दर जहर फैल गया। इसी बीच इलाज में देरी के कारण महिला की मौत हो गई। जिसके बाद परिजनों ने लापरवाही का आरोप लगाए हुए हंगामा करना शुरु कर दिया। साथ ही मुआवजें की मांग करने लगे। अस्पताल प्रशासन ने मुआवजा देकर मामला शांत कराया।

इस मामलें पर अपर पुलिस अधीक्षक एस के श्रीवास्तव ने बताया कि पुलिस को सूचना मिला की जच्चा बच्चा की मौत हो गयी है। पुलिस ने जांच किया हैं। लेकिन परिजनों द्वारा किसी भी प्रकार की कोई शिकायत नही किया गया। पुलिस इस मामलें पर नजर बनाये हुए हैं।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!
× RELATED मऊ: महिला ने किया 3 साल के मासूम का अपहरण, वजह जान रह जाएंगे हैरान