होली के दिन भूलकर भी न कर लें ये काम वरना...

ये नहीं देखा तो क्या देखा (VIDEO)
वैसे तो हिंदू धर्म का हर त्यौहार ही प्यार और खुशियां लेकर आता है परंतु होली के त्यौहार की बात सबसे निराली मानी जाती है। कहा जाता है लोग इस दिन आपसी मतभेदों को भूलकर एक-दूसरे को प्यार बांटते हैं। यही कारण है कि इस त्यौहार को खुशियां का पर्व माना जाता है। बता दें कि होली का त्यौहार भगवान कृष्ण का सबसे मनपसंद त्यौहार माना गया है जिस कारण इसकी महत्वता अधिक बढ़ती है। होली की महत्वता को मद्देनज़र रखते हुए ज्योतिष में इससे संबंधित कुछ खास बातें बताई गई हैं। इसके अनुसार होली के दिन अगर व्यक्ति से जाने-अनजाने में की गई कुछ गलतियों हो जाएं तो इस पर्व को रंग फीका पड़ जाता है। तो आइए जानते हैं कौन सी वो 7 बातें जिन्हें होली के दिन भूलकर भी नज़रअंदाज़ नहीं करना चाहिए-

कुछ लोग इस पर्व की धूम में इतना खो जाते हैं या कहें कि इतना जोश में आ जाते हैं कि वो भांग, शराब आदि का नशा करने लगते हैं। लेकिन कहा जाता है कि ऐसा करने वाले अपने साथ-साथ अन्य लोगों के लिए भी परेशानियां खड़ी करते हैं। इसलिए कहा जाता है कि इसलिए ऐसा काम नहीं करना चाहिए, जिससे इस दिन रंग में भंग पड़े।

वैसे तो लगभग सभी लोग इस दिन पूरा समय रंगों से खेलते हैं, परंतु वहीं कुछ ऐसे भी लोग होते हैं तो इस दिन सुबह देर समय तक सोते हैं या शाम के समय सोते हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार ऐसा करना अच्छा नहीं माना गया क्योंकि धार्मिक ग्रंथों के अनुसार ये दिन साधना करने का दिन होता है। इसलिए इस दिन जितना हो सके तो श्रीकृष्ण और राधा रानी का ध्यान करना चाहिए। बता दें कि इस दिन केवल बीमार, वृद्ध और गर्भवती महिलाओं को ही सोने की इजाज़त होता है।

कहते हैं कि होली एक ऐसा त्यौहार जिस दौरान लोगों के बीच हर प्रकार भेदभाव मिट जाता है। इसलिए किसी को भी किसी व्यक्ति का अपमान नहीं करना चाहिए। खासतौर पर इस पावन दिन बुजुर्गों का सम्मान करना चाहिए और इस बात का भी पूरा ध्यान रखें कि उन्हें आपकी किसी भी बात का बुरा न लगे।

चूंकि होली का त्यौहार प्यार और एकता का प्रतीक माना जाता है, इसलिए कहा जाता है कि इस दिन किसी से भी फालतू का झगड़ा मोल न लें। इसके अलावा इस दिन क्रोध न करें। कहा जाता है कि जिनके घर में लोगों को हर छोटी बात पर अधिक क्रोध करते हैं उनके वहां हमेशा कलह-क्लेश रहता है और लक्ष्मी की जगह अलक्ष्मी निवास करती हैं।
होली के दिन कुछ लोग महिलाओं और औरतो पर रंग डालते हैं और उनके लिए अपशब्दों का उपयोग करते हैं, जो बिल्कुल अच्छा नहीं माना जाता है। धार्मिक ग्रंथों में महिलाओं का अपमान करने वाले को पापी माना जाता है।
ज्योतिष के अनुसार होली से पहले होलाष्टक के दौरान कोई भी शुभ कार्य नहीं करना चाहिए, जैसे मुंडन, सगाई, विवाह, गृह प्रेवश आदि। इसके अलावा होली के दिन भूलकर भी पैसों का लेन-देन न करें। न किसी से कर्ज लें और न ही उधार पैस दें।
जानें, क्या होता है सूतक-पातक ? बरतें ये सावधानियां (VIDEO)

Related Stories:

RELATED एंटी रोजन कार्य में प्रशासन की लापरवाही, ग्रामीणों ने किया विरोध