सरकारी स्कूलों में अनुशासन को देख निदेशालय ने लिया बड़ा निर्णय

नई दिल्ली: दिल्ली के सरकारी स्कूल के छात्र अब बंक नहीं मार पाएंगे क्योंकि सरकारी स्कूल में अब छात्र-छात्राओं की दो बार हाजिरी लगेगी। स्कूलों में अनुशासन व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए शिक्षा निदेशालय की तरफ से यह निर्णय लिया गया है। इस विषय पर दिशा-निर्देश जारी करते हुए निदेशालय का कहना है कि सरकारी स्कूलों में दो बार विद्यार्थियों की हाजिरी लगाना अनिवार्य होगा। 

स्कूल ब्रांच द्वारा जारी सर्कुलर में सभी स्कूल प्रमुख को निर्देश देते हुए कहा है कि वे अपने स्कूल में शिक्षकों को दो बार विद्यार्थियों की हाजिरी लगाने के निर्देश दें। पहले सुबह प्रार्थना के दौरान और लंच के बाद हाजिरी लगाई जाएगी। 

शिक्षा निदेशालय की मानें तो दो बार हाजिरी लगाए जाना इसलिए अनिवार्य किया गया है ताकि छात्र लंच के बाद स्कूलों से भाग न जाए।  क्योंकि अकसर सरकारी स्कूलों में देखा गया है कि कई छात्र आधी छुट्टी के बाद स्कूल से भाग जाते हैं या स्कूल में होने के बावजूद आधी छुट्टी के बाद लगने वाली कक्षाओं में मौजूद नहीं रहते हैं। ऐसे में दो बार हाजिरी लगाने से विद्यार्थियों की वास्तविक संख्या और आधी छुट्टी के बाद गैर हाजिरी रहने वाले विद्यार्थियों की संख्या सुनिश्चित की जा सकेगी। शिक्षा निदेशालय के आदेशानुसार दोनों बार हाजिरी लेने वाले शिक्षक अनुशासनात्मक कार्रवाई के लिए उत्तरदायी होंगे। 
 

Related Stories:

RELATED छात्रवृत्ति घोटाला : CBI ने शिक्षा निदेशालय से कब्जे में लिया Record