इस दिन कर लें ये काम, छप्पर फाड़कर होगी पैसों की बरसात

ये नहीं देखा तो क्या देखा (VIDEO)
ज्योतिष शास्त्र के अनुसार शुक्रवार का दिन देवी महालक्ष्मी को समर्पित है। इसलिए इस दिन इनका पूजन-अर्चन करना बहुत शुभ माना जाता है। मगर बहुत कम लोगों को पता होगा कि इस दिन देवी के सभी रूपों की पूजा करना फलदायी साबित होता है। तो आज हम आपको देवी दुर्गा से जुड़े कुछ ऐसे मंत्रों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनका शुक्रवार के दिन उच्चारण करना बहुत लाभकारी माना जाता है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार इन मंत्रों का जाप जातक की हर अधूरी कामना पूरी होती है। तो आइए जानते हैं देवी दुर्गा के अद्भुत और महाचमत्कारी मंत्र, जिनका निरंतर जाप करने से आप अपनी कई मुसीबतों से छुटकारा पा सकते हैं।


ॐ ह्रींग डुंग दुर्गायै नमः
ज्योतिष शास्त्र के अनुसार उपरोक्त दिए गए गुप्त मंत्र से हर प्रकार की कामना पूरी होती है। ये भी कहा जाता है कि इस मंत्र से सभी तरह की सिद्धियों को हासिल किया जा सकता है। इस मंत्र को बहुत प्रभवाशाली माना गया है।

ॐ अंग ह्रींग क्लींग चामुण्डायै विच्चे
इस मंत्र का जाप देवी प्रदर्शन के समारोहों में आवश्यक होता है। ये मंत्र देवी मां के बहुत लोकप्रिय मंत्रों में से एक है। इसके साथ ही ये भी कहा जाता है कि दुर्गासप्तशा प्रदर्शन से पहले इस मंत्र का उच्चारण आवश्यक होता है। मान्यता है कि इस मंत्र को दोहराने से सुंदरता, बुद्धि और समृद्धि प्राप्त होती है।

अच्छा वर पाने के लिए
हे गौरी शंकरधंगी ! यथा तवं शंकरप्रिया,
तथा मां कुरु कल्याणी ! कान्तकान्तम् सुदुर्लभं

धन प्राप्ति के लिए मंत्र
दुर्गे स्मृता हरसि भीतिमशेषजन्तो:
स्वस्थै: स्मृता मतिमतीव शुभां ददासि।
दारिद्र्यदु:खभयहारिणि का त्वदन्या
सर्वोपकारकरणाय सदाऽऽ‌र्द्रचित्ता॥


कल्याण के लिए
सर्वमङ्गलमङ्गल्ये शिवे सर्वार्थसाधिके।
शरण्ये त्र्यम्बके गौरि नारायणि नमोऽस्तु ते॥

विपत्ति नाश के लिए
शरणागतदीनार्तपरित्राणपरायणे।
सर्वस्यार्तिहरे देवि नारायणि नमोऽस्तु ते॥

आकर्षण पाने के लिए
ॐ क्लींग ज्ञानिनामपि चेतांसि देवी भगवती ही सा,
बलादाकृष्य मोहय महामाया प्रयच्छति

रक्षा के लिए
शूलेन पाहि नो देवि पाहि खड्गेन चाम्बिके।
घण्टास्वनेन न: पाहि चापज्यानि:स्वनेन च॥


कौन सा पाप द्रौपदी की मौत का कारण बना (VIDEO)

Related Stories:

RELATED एंटी रोजन कार्य में प्रशासन की लापरवाही, ग्रामीणों ने किया विरोध