इंसाफ की मांग: लीजा को न्याय दिलाने के लिए फास्ट ट्रैक कोर्ट में हो केस की सुनवाई

फरीदाबाद (अनिल राठी): सिरफिरे आशिक के एक तरफा प्यार की भेंट चढ़ी छात्रा लीजा को शहर के सैकड़ों लोगों ने पूरे बाजार में दूसरी बार कैंडल मार्च निकालकर श्रद्धांजलि दी। इस दौरान लोगों में हत्यारे के खिलाफ रोष देखा गया। लोगों ने हत्यारे का केस फास्ट ट्रैक पर चलवा कर फांसी देने की गुहार लगाई है।

बल्लभगढ़ के अंबेडकर चौक पर सैकड़ों लोगों ने लीजा को श्रद्धांजलि दी। इस दौरान कैंडल मार्च में शामिल हुई बल्लभगढ़ की पूर्व विधायक एवं पूर्व संसदीय सचिव शारदा राठौर ने कहा कि यह घटना शर्मसार कर देने वाली घटना है, जिसने शहरवासियों को झकझोर कर रख दिया है। उन्होंने कहा कि लीजा केस को फास्ट ट्रैक पर चला कर आरोपी को जल्द से जल्द फांसी की सजा दी जाए, ताकि ऐसी शर्मसार कर देने वाली  घटना की पुनरावृत्ति ना हो। 



बता दें कि मृतका लीजा के पड़ोस में रहने वाला युवक उससे एकतरफा प्यार करता था। 17 मई को लीजा को घर में अकेली थी, इसी का फायदा उठाकर आरोपी पहले बहाने से लीजा के घर में घुसा। उसके बाद आरोपी ने उससे शादी करने का प्रस्ताव रखा, जिसके लिए लीजा द्वारा मना करने परे आरोपी ने उसके साथ बलात्कार करने की कोशिश की, जब वह इस कोशिश में नाकाम रहा तो फिर लीजा की बेरहमी से हत्या कर दी थी और मौके से फरार हो गया था। हालांकि आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

माता-पिता व छोटा भाई गया था स्कूल
लीजा के माता पिता सरकारी स्कूल में अध्यापक हैं, जो अपनी ड्यूटी पर गए हुए थे। वहीं उसका छोटा भाई जो स्कूल गया हुआ था, स्कूल की छुट्टी के बाद जब वह घर आया तो उसने लीजा को फर्श पर मृृत अवस्था में पाया। जिसके बाद उसने शोर मचाना शुरू कर दिया, तो अन्य पड़ोसी भी पहुंचे। जिसके बाद उन्होंने उनके पिता व पुलिस को सूचित किया। जिसके बाद पुलिस ने जांच शुरू की, जिसमें पाया गया लीजा की हत्या उसी के पड़ोसी ने ही की थी।

Related Stories:

RELATED अनोखा मंदिर: यहां चिट्ठी लिखकर न्याय मांगते हैं लोग, पूरी होती है मन्नत