भारी बारिश के बाद दिल्ली की आबोहवा हुई साफ

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी में प्रदूषण स्तर लगातार बढऩे से परेशान दिल्लीवासियों को मंगलवार को अपेक्षाकृत साफ आबोहवा में सांस लेने का मौका मिला। भारी बारिश के कारण प्रदूषण का स्तर काफी कम हो गया और मंगलवार को इस साल की सबसे अच्छी वायु गुणवत्ता दर्ज की गई। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के आंकड़ों के अनुसार शहर का समग्र वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 133 दर्ज किया गया जो ‘मध्यम’ की श्रेणी में आता है। 


जनवरी के पहले सप्ताह में भी कुछ समय के लिए वायु गुणवत्ता ‘मध्यम’ श्रेणी में आई थी। दिल्लीवासी पिछले कुछ महीनों से हानिकारक प्रदूषण स्तर से जूझ रहे हैं और पिछले एक महीने से वायु गुणवत्ता ‘बहुत खराब’ और ‘गंभीर’ श्रेणी के बीच बनी हुई है। वायु गुणवत्ता सूचकांक 100 और 200 के बीच ‘मध्यम’ श्रेणी, 201 और 300 के बीच ‘खराब’, 301 और 400 के बीच ‘बहुत खराब’, 401 और 500 के बीच ‘गंभीर’ माना जाता है। 



सीपीसीबी ने बताया कि दो इलाकों में मंगलवार को वायु गुणवत्ता ‘संतोषजनक’ दर्ज की गई जबकि 32 इलाकों में यह ‘मध्यम’ श्रेणी में रही। उसने बताया कि राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र, नोएडा, फरीदाबाद, गाजियाबाद, गुडग़ांव और ग्रेटर नोएडा में वायु गुणवत्ता ‘मध्यम’ रही। दिल्ली में पीएम 2.5 (ढाई माइक्रोमीटर से भी कम व्यास के कण) का स्तर 61 रहा जबकि पीएम 10 का स्तर 110 दर्ज किया गया। प्राधिकारियों ने बताया कि प्रदूषण स्तर में गिरावट की की वजह दिल्ली एनसीआर में हुई भारी बारिश है।     

Related Stories:

RELATED भारी बारिश के साथ हुई हल्की ओलावृष्टि, फिर ठंड ने पकड़ा जोर