लगातार दूसरे महीने घटी यात्री वाहनों की बिक्री

नई दिल्लीः घरेलू बाजार में यात्री वाहनों की बिक्री में लगातार दूसरे महीने गिरावट दर्ज की गई है। जुलाई में 2.71 प्रतिशत घटने के बाद अगस्त में देश में यात्री वाहनों की बिक्री 2.46 प्रतिशत घटकर 2,87,186 इकाई रह गई। काफी अर्से बाद यात्री वाहनों की बिक्री में लगातार दो महीने गिरावट रही है। नोटबंदी के दौरान भी ऐसा नहीं हुआ था।

सियाम के महानिदेशक विष्णु माथुर ने अगस्त की बिक्री के आंकड़े साझा करते हुए कहा कि पिछले साल 01 जुलाई को वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) लागू होने के बाद लगातार दो महीने बिक्री में जबरदस्त उछाल आया था। इसी कारण इस साल जुलाई और अगस्त में एक साल पहले की तुलना में बिक्री घटी है। इसके अलावा केरल में पिछले महीने आई बाढ़ के कारण भी बिक्री प्रभावित हुई। 

आंकड़ों के अनुसार, अगस्त में यात्री वाहनों के खंड में कारों की बिक्री 1.03 फीसदी घटकर 1,96,847 इकाई पर आ गई। उपयोगी वाहनों की बिक्री 7.11 प्रतिशत घटकर 73,073 इकाई रही, हालांकि वैनों की बिक्री 2.41 प्रतिशत की बढ़त के साथ 17,266 इकाई पर पहुंच गई। जुलाई में कारों की बिक्री 0.45 प्रतिशत और उपयोगी वाहनों की 8.95 प्रतिशत घटी थी जबकि वैनों की 2.79 प्रतिशत बढ़ी थी।

माथुर ने कहा कि पिछले साल सितंबर में यात्री वाहनों पर उपकर बढ़ाने से पहले कुछ दिन तक अच्छी बिक्री रही थी और इसलिए इस साल सितंबर में भी इस खंड में गिरावट या बेहद कम वृद्धि की अपेक्षा है।  

Related Stories:

RELATED फर्राटा भर रही व्यावसायिक वाहनों की बिक्री