पंजाब में नशे के कारण रोज हो रही एक मौत

चंडीगढ़ :पंजाब में फैलते नशे को रोकने के लिए कैप्टन अमरिंदर सिंह की सरकार भी नाकाम साबित हुई हैं। नशा दिन-प्रतिदिन तेजी से पंजाब में अपनी पकड़ बनता जा रहा हैं। साथ ही सरकार द्वारा गठित एस.आई.टी. भी इस नशे के कहर को रोकने में नाकामयाब रही। 

नशे के कारण पंजाब में पिछले साल 38 मौतें हुई थी, इस साल जून महीने तक ही यह आकंड़ा 60 पर पहुँच गया है। बता दें कि वर्ष 2016 में यह आकंड़ा 30 पर ही रुक गया था। एक अधिकारी ने बताया कि नशे के चलते हर दिन औसतन एक व्यक्ति की मौत सूबे में हो रही है। एक साल से अधिक समय बीत जाने के बावजूद एस.आई.टी. के हाथ एक भी बड़ा नशे का सौदागर नहीं लगा है। 


 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!
× RELATED लम्बी विधानसभा क्षेत्र में रैली कर बादल को बेनकाब करेंगे कैप्टन