देश में वैज्ञानिक चेतना के प्रसार के लिए डीडी साइंस, इंडिया साइंस चैनल की शुरुआत

नई दिल्ली :लोक प्रसारक दूरदर्शन के राष्ट्रीय चैनल पर आज से शाम पांच से छह बजे तक का स्लॉट विज्ञान को समर्पित होगा और इस दौरान ‘डीडी साइंस’ का प्रसारण किया जायेगा। भविष्य में डीडी साइंस को अलग चैनल के रूप में लांच करने की योजना है।  केंद्रीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री डॉ. हर्षवद्र्धन ने  मंडी हाउस स्थित दूरदर्शन भवन में आयोजित एक कार्यक्रम में ‘डीडी साइंस’ का शुभारंभ किया। इसके अलावा उन्होंने ‘इंडिया साइंस’ के नाम से विज्ञान को समर्पित एक इंटरनेट आधारित चैनल की भी शुरुआत की। इन दोनों के लिए कार्यक्रम की सामग्री तैयार करने तथा कार्यक्रम की गुणवत्ता सुनिश्चित करने की जिम्मेदारी विज्ञान प्रसार की होगी जो विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग के तहत एक स्वायत्त संस्थान है।  ‘

डीडी साइंस’ का प्रसारण अभी सप्ताह में छह दिन सोमवार से शनिवार तक शाम पाँच बजे से छह बजे तक होगा। अभी इसके कार्यक्रम सिर्फ ङ्क्षहदी में उपलब्ध होंगे। बाद में इन कार्यक्रमों को दूरदर्शन के क्षेत्रीय चैनलों के माध्यम से अन्य भारतीय भाषाओं में प्रसारित करने की भी योजना है।  दूरदर्शन की ओर से उसकी महानिदेशक सुप्रिया साहू और विज्ञान प्रसार की ओर से उसके निदेशक नकुल परासर ने इस मौके पर सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किये।  डॉ. हर्षवद्र्धन ने इसे खुशी का क्षण बताते हुये कहा कि विज्ञान में इतना कुछ हो रखा है, लेकिन लोगों को उनकी जानकारी नहीं है। विज्ञान में अच्छा संचार नहीं होना इसका प्रमुख कारण है। इस चैनल का उद्देश्य बच्चों के अंदर विज्ञान के प्रति जिज्ञासा पैदा करना है।  उन्होंने कहा,‘‘एक दिन हम इसे ऐसा ‘24 गुणा 7’ विज्ञान चैनल बनाना चाहते हैं जिसका टीआरपी सभी चैनलों तथा सभी कार्यक्रमों से ज्यादा हो। हम इसी लक्ष्य को लेकर चल रहे हैं। यह चैनल ‘न्यू इंडिया’ के 2022 के सपने को साकार करने में अहम भूमिका अदा करेगा।’’

Related Stories:

RELATED राजनीतिक दलों का एक वर्ग फैला रहा नफरत: ममता बनर्जी