चैटरबॉक्स ने मानी गलती, 72 घंटों तक ऑनलाइन रहा हाई प्रोफाइल लोगों का डेटा

नई दिल्ली: डेटा लीक के आरोपों में घिरी कंपनी चैटरबॉक्स ने कहा कि कुछ प्रभावशाली उपयोगकर्ताओं की जानकारियां (डेटा) अनजाने में सार्वजनिक हुई हैं लेकिन इसमें किसी तरह की संवेदनशील व्यक्तिगत जानकारी शामिल नहीं हैं। मुंबई की कंपनी ने कहा कि निजी सूचनाएं लीक होने की खबरें 'गलत' हैं। कंपनी ने स्वीकार किया कि सीमित संख्या में प्रभावशाली लोगों और हस्तियों की जानकारियां (डेटाबेस) करीब 72 घंटों तक ऑनलाइन मौजूद रहीं।

कंपनी ने दी सफाई
कंपनी ने मंगलवार देर रात बयान जारी करके कहा, इस डेटाबेस में कोई भी संवेदनशील निजी आंकड़े शामिल नहीं है और इसमें वहीं जानकारियां हैं, जो सार्वजनिक मंच पर उपलब्ध हैं या फिर प्रभावशाली लोगों ने खुद से साझा की है।

क्या है मामला?
फेसबुक की स्वामित्व वाली कंपनी इंस्टाग्राम ने मंगलवार को कहा था कि वह इस बात की जांच कर रही है कि क्या उसके उपयोगकर्ताओं के आंकड़ों को एक तीसरे पक्ष की ओर से अनुचित तरीके से रखा गया। वह देख रही है कि क्या इसमें उसकी नीतियों का उल्लंघन हुआ। खबरों के मुताबिक ऑनलाइन पाए गए इस डेटाबेस पर करीब 4.9 करोड़ आंकड़े उपलब्ध हैं जिसमें इंस्टाग्राम के लाखों प्रभावशाली उपयोगकर्ताओं, सितारों और ब्रांड खातों की जानकारियां भी शामिल हैं। 

रिपोर्ट में कहा गया है कि डेटाबेस में सार्वजनिक आंकड़ों (जैसे- बायो, प्रोफाइल पिक्चर, फॉलोअर की संख्या) के अलावा उपयोगकर्ताओं की निजी जानकारियां जैसे ई-मेल एड्रेस और फोन नंबर भी मौजूद हैं। इंस्टाग्राम के प्रवक्ता ने एक ई-मेल बयान में कहा कि कंपनी इस बात की जांच कर रही है कि क्या तीसरे पक्ष ने अनुचित तरीके से इंस्टाग्राम के आंकड़ों को रखा है। यह भी स्पष्ट नहीं है कि चैटरबॉक्स के डेटाबेस पर उपलब्ध फोन नंबर और ईमेल आईडी इंस्टाग्राम से आए हैं या कहीं और से। 
 

Related Stories:

RELATED Navjot Sidhu ने क्या की गलती, सुनिए Bains की जुबानी