जिम्बाब्वे में हवा के झटके से गई सैंकड़ों लोगों की जान

हरारे:जिम्बाब्वे में उष्णकटिबंधीय चक्रवात इडाई के कारण करीब एक झटके से ही सैंकड़ों लोगों की जान चली गई । स्थानीय सरकार के मंत्री जुलाई मोयो ने बताया कि मृतक संख्या करीब 100 है लेकिन लोगों का कहना है कि यह 300 भी पहुंच सकती है, लेकिन इसकी पुष्टि नहीं की जा सकती। ’ मोयो ने कहा, ‘कुछ शव पानी में बह रहे हैं और कुछ बह कर मोजाम्बिक पहुंच गए हैं।’

सूचना मंत्रालय के अनुसार कम से कम 217 लोग लापता हैं और 44 लोग फंसे हुए हैं। चक्रवात से पूर्व बाढ़ के कारण पहले ही देशभर में 66 लोगों की मौत हो चुकी है। प्रांतीय गवर्नर अल्बर्टो मोंडलेन ने सरकारी रेडियो से कहा, ‘रात भर और आज सुबह सबसे मुश्किल समय था। बहुत नुकसान हुआ है। कई घरों की छतें उड़ गई हैं। ’  इसके अलावा दक्षिण अफ्रीका के एक अन्य देश में खतरनाक चक्रवात 'इडाई' के कारण  मोजाम्बिक में कम से कम 48 लोगों की मौत हो गई।

यहां चक्रवात के दौरान तेज हवा, भारी बारिश और बाढ़ के कारण कई पुल नष्ट हो गए और घर पानी में बह गए। चक्रवात के बाद दर्जनों अन्य लोग लापता हैं। मोजाम्बिक की सरकारी स्वामित्व वाली जोर्नल डोमिंगो अखबार ने चक्रवात से बुरी तरह प्रभावित मध्य सोफाला प्रांत में अब तक 48 लोगों के मारे जाने की खबर दी है।

Related Stories:

RELATED BRO की अनुमति के बाद खुले रोहतांग सुरंग के द्वार, सैंकड़ों लोग हुए आर-पार