कस्टम व डी.आर.आई. ने जलाई हैरोइन व भुक्की की खेप

अमृतसर(नीरज):कस्टम विभाग व डी.आर.आई. की तरफ से उच्चस्तरीय ड्रग डिस्पोजल कमेटी की निगरानी में मंगलवार के दिन गांव इब्बनकलां के वेस्ट ट्रीटमेंट प्लांट में 84 किलो हैरोइन व 657 किलो भुक्की को जला दिया गया है। जिस खेप को जलाया गया है उसके संबंध में पता चला है कि हैरोइन की इतनी खेप 1000 युवाओं की जिन्दगी बर्बाद करने के लिए काफी थी। 

डी.आर.आई. व कस्टम विभाग की टीम की तरफ से इस हैरोइन की खेप को 13 अलग-अलग केसों में तस्करों से जब्त किया गया था जिसमें कुछ तस्कर पकड़े गए तो कुछ फरार हो गए। इस हैरोइन की कीमत अंतर्राष्ट्रीय मार्कीट में 420 करोड़ रुपए थी। हैरोइन की क्वालिटी इतनी बढिय़ा है कि इसको यदि एक बार कोई युवा इंजैक्शन या किसी अन्य तरीके से पी लेता है तो बहुत जल्द इसका गुलाम बन जाता है 3-4 बार हैरोइन का सेवन करने के बाद इसकी लत लग जाती है। धीरे-धीरे इसकी लत अपने गुलाम को मौत के आगोश में ले लेती है। हैरोइन की बिक्री करने वाले इसकी एक पुड़ी मार्कीट में 2500 से 3 हजार रुपए में बेचते हैं इसकी लत्त के शिकार व्यक्ति को जब हैरोइन की डोज नहीं मिलती है तो वह पागलों की तरह हरकतें करने लगता है। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!