बेरहम मां का कारनामा, बच्ची से नहीं करती थी प्यार तो कानों में ब्लीच डाल किया टॉर्चर

 

इंटरनेशनल डेस्कःमां इस दुनिया में अपने बच्चों से सबस ज्यादा प्यार करती है पर तुर्की के इस्तांबुल से मां-बेटी को लेकर दिल दहला देने वाली खबर सामने आई है। एक महिला काफी लंबे समय से अपनी मासूम बच्ची को टॉर्चर कर रही थी। टॉर्चर के नाम पर वो अपनी बच्ची के कान और नाभि में ब्लीच इंजेक्ट कर रही थी।पुलिस ने उसको हिरासत में ले लिया है।

इस महिला का नाम एलिफ है और ये इस्तांबुल में अपने पति ऐरे के और तीन बच्चियों के साथ रहती है। ये काफी लंबे समय से अपनी सबसे छोटी बेटी ईलुल को टार्चर कर रही थी। एलिफ पर संदेह सबसे पहले तब हुआ था जब उसकी बेटी नियमित रूप से बीमार रहने लगी। जब अस्पताल लेकर पहुंचे तो पता चला कि उसके सिर की हड्डी टूटी हुई थी और पूरे शरीर पर चोटें थी। तब पुलिस ने एलिफ से पूछताछ की लेकिन उसने अपने आप को निर्दोष साबित कर दिया। इसके बाद भी एलिफ अपनी हरकतों से बाज नहीं आई और अपनी बेटी को कष्ट पहुंचाती रही।

दूसरी बार भी वह नहीं पकड़ी गई लेकिन तीसरी बार एलिफ कानून के शिकंजे में फंस गई। जब उसकी चोटिल बेटी को अस्पताल लाया गया, उसकी हालत नाजुक बनी हुई थी वहां के डाक्टरों ने एलिफ को ईलुल से मिलने नहीं दिया लेकिन पुलिस का शक उसी पर था। आखिरकार एलिफ उस प्रेशर को बर्दाश्त नहीं कर पाई और उसने सरेंडर कर दिया।

पूछताछ में एलिफ ने ऐसे- ऐसे खुलासे किए, कि यकीन करना मुश्किल हो जाएगा। उसने बताया कि वो ऐरे को तब से टार्चर कर रही थी जब वो सिर्फ एक महीने की थी। वो रेजर से उसकी आंख, कान, छाती, और नाभि पर चोट पहुंचाती थी। फिर एलिफ खुद उसे अस्पताल लेकर जाती और वहां भी उसकी नसों में ब्लीच और लिक्विड सोप इंजेक्ट कर देती थी। एलिफ अपनी इस सनक को ये कहकर सही साबित कर रही है कि वो अपनी बेटी से कभी प्यार नहीं कर पाई उसके मन में उसके लिए कभी ममता जागी ही नही।

Related Stories:

RELATED बर्थडे स्पेशल: खेल के मैदान से शुरू हुई थी साइना की लव स्टोरी, मां की खातिर छोड़ा था पहला प्यार