केरल: तबाही के बीच गूंजी शहनाई, दूल्हा-दुल्हन ने लिए सात फेरे

नेशनल डेस्क: बाढ़ की त्रासदी झेल रहे केरल के मलप्पुरम जिले के राहत शिविर में रह रही एक युवती आज शादी के बंधन में बंध गई। जल प्रलय के कारण राज्य में हजारों लोगों को बेघर होना पड़ा है। बाढ़ की वजह से 24 वर्षीय अंजू का घर डूब गया। इस वजह से उसे अपने परिवार के साथ प्राथमिक स्कूल में बने एक राहत शिविर में जाना पड़ा। 


आपदा के कारण शुरूआत में परिवार ने शादी टाल देने का विचार किया लेकिन राहत शिविर के अन्य लोगों ने उन्हें शादी कर लेने के लिए समझाया। वधू अंजू के एक रिश्तेदार ने कहा कि इसलिए, हमने बिना किसी ऐतराज के निकटवर्ती मंदिर में शादी रचाने का फैसला किया। वर शाइजू के परिवार को भी कोई आपत्ति नहीं थी। 


पारंपरिक लाल साड़ी पहने और गहना धारण किये अंजू सुबह में राहत शिविर से बाहर निकलीं और मंदिर की ओर बढ़ चली। चारों ओर बाढ़ के कहर के कारण इस जिले में एक जगह से दूसरे जगह तक आने-जाने में मुश्किलें बनी हुयी है लेकिन वर पक्ष किसी तरह वहां तक पहुंचने में सफल रहा और यह शादी संपन्न हुई। राज्य में बाढ़ की विकराल स्थिति के कारण कई शादियां टल गयी है।           
 

Related Stories:

RELATED सबरीमला: महिलाओं के प्रवेश को लेकर प्रदर्शन करने वाले 67,094 लोगों के खिलाफ मामले दर्ज