शिव'राज' में हुए E-Tendering घोटाले पर कांग्रेस का कड़ा रूख, जिम्मेदारों पर FIR

भोपाल: सीएम कमलनाथ के करीबियों पर छापेमार कार्रवाई के बाद कांग्रेस ने अब बीजेपी के खिलाफ कड़ा रूख अपना लिया है। प्रदेश में शिवराज सरकार के दौरान हुए ई-टेंडरिंग घोटाले में पांच विभागों के अधिकारियों और तत्कालीन ज़िम्मेदार नेताओं के खिलाफ सरकार ने भोपाल में एफआईआर दर्ज करा दी गई है। 
 

PunjabKesari
 

बीजेपी पर कार्रवाई  कांग्रेस की ओर से जवाब
जांच एजेंसी आर्थिक अपराध अन्वेषण प्रकोष्ठ (ईओडब्ल्यू) ने ई-टेंडरिंग घोटाला मामले में कार्रवाई की है। इस कार्रवाई को हाल ही में सीएम के करीबियों पर पड़े आयकर के छापों का एमपी सरकार की तरफ से दिया गया जवाब समझा जा रहा है। जल निगम, लोकनिर्माण विभाग, पीआईयू, रोड डेवलेपमेंट और जल संसाधन विभाग पर टेंडर में गड़बड़ी के आरोप लगे हैं। इन मामलों में  सात कंपनियों पर फर्जीवाड़ा कर टेंडर लेने का आरोप है। 

PunjabKesari

ईओडब्ल्यू कर रही जांच
आयकर छापे के बाद कमलनाथ सरकार भाजपा पर जवाबी कार्रवाई की तैयारी में थी। वो भाजपा सरकार के समय हुए घोटालों की फाइल खोल रही थी। आय़कर छापे के बाद शिवराज सरकार के समय हुए घोटालों के मामलों के दस्तावेज खंगाले जा रहे थे। ईओडब्ल्यू में ई-टेंडरिंग,एमसीयू में गड़बड़ी,फर्जी वेबसाइट्स,सांसद निधि के उपयोग में गड़बड़ी के मामलों की जांच चल रही है।  जनजातीय कार्य विभाग, वन्या प्रकाशन सहित अन्य योजनाओं में घपलों के दस्तावेजों को भी खंगाला जा रहा है। 

 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!