तेलंगाना: TRS को रोकने के लिए कांग्रेस, TDP और CPI ने बनाया महागठबंधन

नेशनल डेस्क: तेलंगाना विधानसभा भंग होने के साथ ही राज्य में राजनीतिक घमासान तेज हो गया है। सत्तारूढ टीआरएस को मात देने के लिए कांग्रेस, तेलुगु देशम पार्टी (टीडीपी) और भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (सीपीआई) ने महागठबंधन बनाने की तैयारी कर ली है। कांग्रेसी नेताओं के अनुसार सभी विपक्षी दलों को एकजुट करने की शुरुआती सहमति के बाद अब सीटों के बंटवारे पर बातचीत चल रही है। 
PunjabKesari
सीटों के बंटवारे पर हो रही चर्चा
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आरसी खुंटिया के अनुसार टीडीपी से गठबंधन करने में पहले जैसी कड़वाहट नहीं है। उन्होंने कहा कि कर्नाटक में भी कांग्रेस ने अधिक सीट जीतने के बाद भी जेडीएस के नेता को मुख्यमंत्री बनाया। इसी तरह तेलंगाना में भी गठबंधन किया जा सकता है। खुंटिया ने कहा कि हमने अभी सीटों के मुद्दे पर बात नहीं की है लेकिन हम व्यापक स्तर पर गठबंधन का फॉर्मूला तैयार कर रहे हैं।
PunjabKesari

टीडीपी ने पहली बार कांग्रेस से मिलाया हाथ 
कांग्रेस की ओर से राज्य के प्रभारी राम चंद्र खुंटिया, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भरत रेड्डी और विधानमंडल दल के नेता के. जना रेड्डी सीटों के बंटवारे पर टीडीपी के तेलंगाना प्रदेश अध्यक्ष एल. रमण, सीपीआई के नारायणन और तेलंगाना जन समिति के अध्यक्ष प्रोफेसर एम. कोडंडरम सीटों के बंटवारे में शामिल हैं। बता दें कि टीडीपी के इतिहास में यह पहली बार है जब वह उस कांग्रेस के साथ गठबंधन करने जा रही है जिसके विरोध के नाम पर ही 1982 में उसका गठन हुआ था। सीपीआई पहले भी दोनों दलों के साथ गठबंधन में रह चुकी है। 

PunjabKesari
चंद्रशेखर राव ने भंग की विधानसभा 
गौरतलब है कि मुख्यमंत्री के.चंद्रशेखर राव ने जल्द चुनाव कराने के लिए पिछले सप्ताह विधानसभा भंग कर दी थी। चुनाव अब नवंबर में हो सकते हैं। विपक्षी दलों ने टीआरएस प्रमुख के कदम को अलोकतांत्रिक करार दिया है जिसके विरोध में तीनों पार्टियों ने गवर्नर ईएसएल नरसिम्हन को चिट्ठी लिखी थी। इस चिट्ठी में  आरोप लगाया है कि केसीआर अपने संवैधानिक शक्तियों का गलत इस्तेमाल कर रहे हैं, जिसे राज्य के हित में रोका जाना चाहिए। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!
× RELATED तेलंगाना में राष्ट्रपति शासन की मांग, कांग्रेस, TDP और CPI ने बनाया गठबंधन