सुजानपुर ब्लॉक समिति में कांग्रेस का किला ध्वस्त, अध्यक्ष-उपाध्यक्ष की छिनी कुर्सी

हमीरपुर:सुजानपुर ब्लॉक समिति के अध्यक्ष और उपाध्यक्ष दोनों के खिलाफ मंगलवार को अविश्वास प्रस्ताव पारित हो गया, जिसमें सुजानपुर ब्लॉक समिति के अध्यक्ष और उपाध्यक्ष की कुर्सी चली गई। उल्लेखनीय है कि सुजानपुर ब्लॉक समिति पर कांग्रेस का कब्जा था और अध्यक्ष व उपाध्यक्ष कांग्रेस विधायक राजेंद्र राणा के समर्थक थे लेकिन भाजपा ने कांग्रेस को जोर का झटका धीरे से दिया। मंगलवार को ब्लॉक समिति सुजानपुर की बैठक जिला पंचायत अधिकारी रमेश कपूर की अध्यक्षता में हुई, जिसमें सभी 15 बी.डी.सी. सदस्यों ने भाग लिया।

कोरम पूरा होने के चलते पास हुआ प्रस्ताव
बैठक में भाजपा समर्थित 8 बी.डी.सी. सदस्यों ने अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया जोकि कोरम पूरा होने के चलते पास हो गया। अब सुजानपुर ब्लॉक समिति के अध्यक्ष और उपाध्यक्ष पद की कुर्सी खाली हो गई है। हालांकि अध्यक्ष और उपाध्यक्ष पद के लिए चुनाव की तिथि अभी प्रशासन द्वारा घोषित करनी है लेकिन भाजपा सरकार के सत्ता में आते ही सुजानपुर ब्लॉक समिति में भी कांग्रेस का किला ध्वस्त हो गया है।

जल्द घोषित होगी अध्यक्ष-उपाध्यक्ष पद के लिए चुनाव की तिथि
 जिला पंचायत अधिकारी रमेश कपूर ने बताया कि सुजानपुर ब्लॉक समिति के अध्यक्ष-उपाध्यक्ष पद के लिए आए हुए अविश्वास प्रस्ताव के चलते ब्लॉक समिति के सदस्यों की बैठक आयोजित की गई, जिसमें सभी 15 सदस्यों ने भाग लिया। उन्होंने बताया कि 8 सदस्यों ने अध्यक्ष व उपाध्यक्ष के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया, जिससे सदस्यों की संख्या के हिसाब से पास कर दिया है, जिसके चलते अब अध्यक्ष व उपाध्यक्ष की कुर्सी खाली हो गई है तथा जल्द ही अध्यक्ष-उपाध्यक्ष पद के लिए चुनाव की तिथि घोषित की जाएगी।

गलत तरीके से बने थे अध्यक्ष-उपाध्यक्ष : भाजपा
प्रदेश भाजपा के सदस्य वीरेंद्र पोदी और भाजपा के महामंत्री अंकुश गुप्ता ने संयुक्त प्रैस बयान में कहा कि कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में सुजानपुर ब्लॉक समिति के अध्यक्ष व उपाध्यक्ष का चयन बी.डी.सी. सदस्यों पर दबाव बनाकर गलत तरीके से किया था। उन्होंने कहा कि आज सभी 8 बी.डी.सी. सदस्यों ने गलत तरीके से बने अध्यक्ष व उपाध्यक्ष के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पारित कर लोकतंत्र को बचाने का काम किया है।

राणा ने गलत तरीके से करवाए कई कार्य
उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में कांग्रेस विधायक राजेंद्र राणा ने गलत तरीके से कई कार्य करवाए हैं जिनकी पोल अब धीरे-धीरे खुल रही है। उन्होंने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल के नेतृत्व में ही सुजानपुर का विकास संभव हो पाया है और कांग्रेस ने हमेशा लोगों को गुमराह करने का काम किया है।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!