भाजपा के बयान पर कांग्रेस का पलटवार, लोकसभा चुनाव की लड़ाई ‘मोदी बनाम भारत’

नई दिल्लीः कांग्रेस ने वित्त मंत्री अरुण जेटली के ‘मोदी बनाम अराजकता’ वाले फेसबुक पोस्ट तथा मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर के एक बयान को लेकर पलटवार करते हुए सोमवार को कहा कि 2019 के लोकसभा चुनाव की लड़ाई ‘मोदी बनाम भारत’ की है। पार्टी ने यह भी कहा कि ‘संविधान को कमजोर करने और इसके साथ छेड़छाड़ का प्रयास करने वाले’ अब विपक्षी एकजुटता से घबराए हुए हैं।


कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने जेटली के पोस्ट और जावड़ेकर के बयान का हवाला देते हुए संवाददाताओं से कहा, ‘‘इस बार मोदी बनाम भारत की लड़ाई है। मुकाबला मोदी जी ठगबंधन और जनता के जनबंधन के बीच होने जा रहा है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘एक मंत्री (जावड़ेकर) कहते हैं कि मोदी जी के बाद देश में अराजकता पैदा हो जाएगी। यह फ्रांस के पूर्व शहंशाह लुई 15वें के समय दिए गए उस बयान की तरह है जिसमें कहा गया था कि लुई के बाद फ्रांस में बाढ़ आ जाएगी। सबको पता है कि लुई का क्या हश्र हुआ।’’

सिंघवी ने कहा, ‘‘सरकार के मंत्री इस तरह के बयान अहंकार की चरमसीमा के कारण दे रहे हैं। यह इस सरकार की घबराहट और बौखलाहट को भी दिखाता है।’’ गौरतलब है कि जेटली ने सोमवार को ‘2019 के लिए एजेंडा- मोदी बनाम अराजकता’ शीर्षक वाली फेसबुक पोस्ट में कहा कि आम चुनावों के लिए विपक्षी दलों के मोदी विरोधी एजेंडा अपनाने और चुनावी गणित का लाभ उठाने की दो तरफा रणनीति है।

जेटली ने लिखा, ‘‘क्या 2019 का चुनाव 1971 का प्रतिरूप होगा? यह मोदी बनाम अव्यावहारिक और अल्पकालिक गठबंधन होगा या यह मोदी बनाम अराजकता होगी।’’ इससे पहले, जावड़ेकर ने रविवार को कहा कि प्रधानमंत्री मोदी का कोई विकल्प नहीं है और उनकी अनुपस्थिति में अराजकता फैल जाएगी। सिंघवी ने कहा, ‘‘दुनिया का सबसे अनैतिक गठबंधन तो भाजपा ने जम्मू-कश्मीर में पीडीपी में किया है। फिर वह इस अनैतिक गठबंधन को मंझधार में छोड़कर भाग भी गई।...अब भाजपा के गठबंधन के साथी उसे छोड़ रहे हैं।’’

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल ने विपक्षी नेताओं की कोलकाता में हालिया रैली की पृष्ठभूमि में सोमवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह पर निशाना साधते हुए कहा कि ‘संविधान को कमजोर करने और इसके साथ छेड़छाड़ का प्रयास करने वाले’ अब विपक्षी एकजुटता से घबराए हुए हैं। उन्होंने दावा किया कि जो लोग पहले भाजपा के 50 वर्षों तक सत्ता में बने रहने का दम भरते थे वे अब यह कहते घूम रहे हैं कि अगर वे इस बार हार गए तो 200 साल तक सत्ता में वापस नहीं आएंगे।

प्रधानमंत्री मोदी के बयान का हवाला देते हुए कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता आनंद शर्मा ने ट्वीट कर कहा, ‘‘मोदी जी का बयान कि 2019 का चुनाव विपक्ष की धन शक्ति और भाजपा की जन शक्ति के बीच होगा, बेहद हास्यास्पद है। यह जहां जमीनी हकीकत को नकारता है, वहीं जनता के विवेक का अपमान भी है।’’  उन्होंने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री जी, आपके झूठे वादे व खोखले दोवों को जनता समझ चुकी है। अब नए सपने दिखाना बंद करें और अपनी वादा खिलाफी का जवाब दें। यह प्रवचन व प्रचार का समय नहीं है, बेहाल किसान और निराश नौजवान को जवाब देने का समय है।’’

Related Stories:

RELATED मोदी के दोबारा PM बनने संबंधी बयान से BJP को नहीं, बल्कि कांग्रेस को होगा फायदा: प्रमोद तिवारी