सर्जिकल स्ट्राइक दिवस पर बोली कांग्रेस सांसद- 'कृपया ऐसा मजाक न करें'

यमुनानगर(सुमित): सर्जीकल स्ट्राइक दिवस के मनाने के जारी सर्कुलर पर राज्यसभा सांसद कुमारी सैलजा ने कहा कि देश को अपने जवानों पर अपनी फौज पर पूरा गर्व है. और हमेशा रहा है.केवल यह सर्जिकल स्ट्राइक के बाद नहीं है, आजादी से लेकर अब तक चाहे हम 1948 की बात लें चाहे उसके बाद एक के बाद एक बड़ी बड़ी लड़ाइयां जंग हमारी सेना ने जीती हैं। चाहे चाइना बॉर्डर हो चाहे बांग्लादेश पाकिस्तान जब जब हमारे देश के ऊपर कोई इस तरीके की बात आई हमारी सेना ने हरजगह जाकर अपना फर्ज निभाया है। देश को बचाने की सुरक्षा का काम किया है।



उन्होंने सवाल उठाया कि यह पहली बार नहीं हुआ कि सर्जिकल स्ट्राइक हुई हो। 29 सितंबर को ये(बीजेपी सरकार) क्या दिखाना चाहते हैं? उन्होंने बताया कि इस सरकार ने जो सर्कुलर जारी किया है क्या ये दिखाना चाहते हैं कि आज तक देश में सेना ने कोई कार्य किया ही नहीं, इतनी बड़ी-बड़ी लड़ाइयां जो जीती हमारे जवान शहीद हुए क्या उनकी कोई कुर्बानी कुर्बानी नहीं है? सर्जिकल स्ट्राइक हुई है सेना ने बहुत अच्छा कार्य किया है लेकिन इस सरकार की आदत दिखावा करना है।

उन्होंने बीजेपी सरकार से अनुग्रह किया कि कृपया करके भाजपा सरकार इसका राजनीतिकरण ना करें, हमारी सेना ने जो देश के लिए किया है, तो हमारा देश तो कितने ही दिन मना सकता है, आप सेना को आप 1 दिन के लिए सीमित करना चाह रहे हैं, जो आप की सरकार में हो रहा है। आप दिखाना चाहते हैं,कि सेना आपके अधीन इस तरह कार्य कर रही है, कृपया ऐसा मजाक हमारी सेना के साथ ना करें।



गौरतलब है कि यूजीसी ने अपने सचिव रजनीश जैन का पत्र जारी कर सभी विश्वविद्यालयों को परिपत्र भेजा है। जिसमें कॉलेजों को कहा गया है, कि वे पूर्व सैनकों को बुलाकर छात्रों को यह बताएं कि किस तरह सेना सीमा की रक्षा करती है। छात्रों को यह भी कहा गया है कि वे सैनिकों को पत्र लिखकर या शुभकामना कार्ड भेजकर उनका मनोबल बढ़ायें तथा इस बारे में फोटो आदि सोशल मीडिया और पत्र सूचना कार्यलय की वेबसाइट पर अपलोड भी करें। यह पहला मौका है जब इस तरह का परिपत्र सरकार ने जारी किया है। इस बीच कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि सरकार सर्जिकल स्ट्राइक का भी राजनीतिकरण कर रही हैं।

Related Stories:

RELATED यमुनानगर के सभी प्रत्याशियों ने भरा नामांकन, बीजेपी का दावा- हम ही जीतेंगे