FIR दर्ज करने पर भड़की कांग्रेस, कहा-सरकार ने अपनाया तानाशाही रवैया

शिमला:हिमाचल कांग्रेस ने भारत बंद के दौरान कांग्रेसी नेताओं पर दर्ज की गई एफ..आई.आर. का कड़ा विरोध किया है। पार्टी प्रवक्ता संजय सिंह चौहान ने कहा कि बीते 10 सितम्बर को भारत बंद के दौरान कांग्रेसी नेताओं पर शिमला तथा अन्य स्थानों पर मामले दर्ज किए गए हैं, जो सरकार के तानाशाही रवैये को दर्शाता है। उन्होंने कहा कि अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी ने बढ़ती महंगाई से आहत देश की जनता को राहत देने की मांग को लेकर भारत बंद का ऐलान किया गया था। इसी कड़ी में कांग्रेस की प्रदेश प्रभारी रजनी पाटिल और पार्टी प्रदेशाध्यक्ष ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू के नेतृत्व में राज्य के तहत शांतिपूर्वक धरने-प्रदर्शन का आयोजन किया।

सरकार का तानाशाह वाला रवैया निंदनीय
भारत बंद को लेकर कई व्यापारिक संगठनों तथा ट्रांसपोर्ट्स का भी समर्थन था। उन्होंने कहा है कि जनता की आवाज को शांतिपूर्वक तरीके से उठाने के बावजूद प्रदेश सरकार ने तानाशाह वाला रवैया अपनाते हुए कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं तथा विधायकों व कार्यकत्र्ताओं पर केस दर्ज कर डाले, जो बहुत ही निंदनीय है। उन्होंने कहा कि सरकार जल्द से जल्द संबंधित केसों को वापस ले।

अशरफ को संयोजक बनाया
उधर, कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष ने अशरफ खान को सोशल मीडिया विभाग शिमला शहरी का संयोजक नियुक्त किया है। यह नियुक्ति तत्काल प्रभाव से लागू मानी जाएगी।

Related Stories:

RELATED कांग्रेस रैली के 12 लाख लंबित, एक चैक दिया वह भी बाऊंस