कांग्रेस ने मोदी पर लगाया आचार संहिता के उल्लंघन का आरोप, आयोग से की कार्रवाई की मांग

नई दिल्लीःकांग्रेस ने मंगलवार को आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज मतदान करने के बाद ‘रोड शो' निकाला और राजनीतिक बयान दिया जो आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन है। विपक्षी पार्टी ने इस संबंध में चुनाव आयोग से मांग की कि प्रधानमंत्री के प्रचार अभियान पर 2-3 दिन की पाबंदी लगाई जाए।


कांग्रेस ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह पर आचार संहिता के उल्लंघन का आरोप लगाते हुए चुनाव आयोग से उन पर 72 घंटे की पाबंदी लगाने की मांग की। कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल ने चुनाव आयोग से कहा कि शाह ने पश्चिम बंगाल के कृष्णनगर में वोट मांगते हुए खुलकर बालाकोट एयर स्ट्राइक, पुलवामा हमला और सशस्त्र बलों के मुद्दे को उठाया। प्रतिनिधिमंडल में अभिषेक मनु सिंघवी, जयराम रमेश और के राजू शामिल थे। मोदी ने अहमदाबाद में मतदान करने के बाद मतदान केंद्र से कुछ दूर पैदल चलकर मीडियाकर्मियों से संक्षिप्त बातचीत की।

सिंघवी ने आयोग कार्यालय के बाहर संवाददाताओं से कहा, ‘‘प्रधानमंत्री उच्च पद पर हैं। बड़ा पद, बड़ी जिम्मेदारी। हमने चुनाव आयोग को बताया कि जिम्मेदारी का ध्यान रखने के बजाय प्रधानमंत्री बार बार आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन कर रहे हैं।'' उन्होंने कहा , ‘‘हमारा अनुमान सही रहा क्योंकि आज मतदान के बाद प्रधानमंत्री ने लंबा रोड शो निकाला, भाषण दिए और मतदान के तत्काल बाद राजनीतिक बयान दिए।''

उन्होंने आरोप लगाया कि आदर्श आचार संहिता का इतना स्पष्ट उल्लंघन कभी नहीं हुआ। सिंघवी ने कहा कि चुनाव आयोग ने प्रधानमंत्री के खिलाफ पहले की गयी शिकायतों पर कोई कार्रवाई नहीं की है, वहीं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खिलाफ कार्रवाई हुई है। उन्होंने कहा, ‘‘दोहरे मानदंड नहीं हो सकते क्योंकि सभी के लिए कानून समान हैं।''

 

Related Stories:

RELATED कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल ने EC से की मुलाकात, PM मोदी पर लगाया आचार संहिता उल्लंघन का आरोप