भारत के सौर क्षेत्र में निवेश करना चाहती हैं ऑस्ट्रेलिया, जापान की कंपनियां

नई दिल्ली:वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री सुरेश प्रभु ने मंगलवार को कहा कि आस्ट्रेलिया और जापान की कई कंपनियां भारत के सौर ऊर्जा क्षेत्र में निवेश करने की इच्छुक हैं। उन्होंने कहा कि शोध एवं विकास में और धन आर्किषत करने के लिए बाजार संबंधी संकेत भेजने की जरूरत है। भारत ने 2022 तक 100 गीगावॉट सौर ऊर्जा उत्पादन का लक्ष्य रखा हैं।

एक आधिकारिक बयान के अनुसार प्रभु ने अंतरराष्ट्रीय सौर गठबंधन (आईएसए) नवोन्मेषण और निवेश मंच को संबोधित करते हुए कहा कि सौर ऊर्जा के भारी मात्रा में उत्पादन के लिए वित्त और प्रौद्योगिकी की लागत घटाने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि सौर ऊर्जा उत्पादन बढऩे से इसके दाम नीचे आएंगे। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!
× RELATED देश का पहला रियल एस्टेट ट्रस्ट खुला, जानें क्या है खासियत